मुश्किल समय में जैकलीन ने बढ़ाया मदद का हाथ, जरुरतमंदो के लिए खुद बना रही है खाना

देश में तेजी से फैल रही दूसरी लहर ने हजारों लोगों को घर से बेघर कर दिया है। कई बच्चों से अपने परिवार को छीन लिया है। वहीं लॉक डाउन की वजह से लोगों को 2 वक्त का खाना भी नहीं मिल पा रहा है। इनमें बहुत से लोग ऐसे हैं जो सुबह से शाम तक कमाते हैं। फिर दो वक्त का खाना खाते हैं। ऐसे में अब बॉलीवुड कलाकारों ने ऐसे लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है।

Jacqueline Fernandez3

बता दें कि आज बहुत से कलाकार ऐसे हैं जो खुद की संस्था चला रहे हैं। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक मदद पहुंचाई जा सके। इसके अलावा वे NGO के माध्यम से भी लोगों की सेवा कर रहे हैं। हाल ही में बॉलीवुड की खूबसूरत एक्टर्स जैकलीन फर्नांडिस ने भी लोगों की मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया है। और YOLO नामक एक फाउंडेशन की स्थापना की है। जिसके माध्यम से वे लोगों को खाना खिलाने के काम करेंगी।

संस्था के साथ कर रही मदद

Jacqueline Fernandez2

वहीं वे आज मुंबई की सड़कों पर निकली और एक जगह स्टोल लगाकर लोगों को खाना देते हुए नजर आई। अभिनेत्री के इस काम को खूब पसंद किया जा रहा है। उनके फैंस उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं। गरीबों को खाना बांटते हुए उनकी तस्वीरे सोशल मीडिया पर भी अब वायरल हो रही है। इतना ही नहीं अभिनेत्री अपनी संस्था के साथ ही सलमान खान के NGO बीइंग ह्युमन के साथ मिलकर भी ऐसे काम पहले भी कर चुकी हैं।


अभिनेत्री ने तस्वीरों को साझा करते हुए लिखा कि ”मदर टेरेसा ने एक बार कहा था, “भूख शांत होने पर शांति की शुरुआत होती है।” इतना ही नहीं जैकलिन ने उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा किया है जो इस बुरे दौर में गरीबों को खाना खिला रहे हैं उन्होंने मुंबई की एक संस्था जो कि डी शिवानंद चलाते हैं। उनका भी धन्यवाद किया उनकी संस्था भी गरीब लोगों को और भूखे लोगों को खाना खिला दी है और रोटी बैंक के नाम से संस्था चलाती है।

Jacqueline Fernandez1

गौरतलब है कि अभिनेत्री ने अपने खुद के संस्था के साथ ही कई एनजीओ के साथ भी हाथ मिलाया है जो इस तरह गरीब लोगों की मदद करते हैं और ज्यादा से ज्यादा लोगों को खाना खिलाने का काम करते हैं। और उन्होंने भी इन इन जी के साथ हाथ मिलाकर यह लक्ष्य रखा है कि इस महीने 1 लाख लोगों तक खाना पहुंचाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *