फर्श से अर्श फिर फर्श ऐसी रही बॉलीवुड में रानू मंडल की जिंदगी, आज इस तरह कर रही गुजर बसर

बॉलीवुड को मानो तो सपनों का मुकाम भी कहना गलत नहीं होगा । जिसके लिए हजारों लोग सतत प्रयास करते हैं। ताकि वे बॉलीवुड में कुछ मुकाम हाशिल कर सके लेकिन सपने जिस तरह पूरे होते हैं। उसी तरह टूट भी जाते हैं। जिसका जीता जागता उदाहरण रानू मंडल को कह सकते हैं।

वो कहते है ना चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात जी हां ऐसा ही रानू मंडल की जिंदगी में हुआ है वो रानू मंडल जो कभी कोलकाता के रेलवे स्टेशन पर अपनी आवाज से लोगों का मनोरंजन किया करती थीं । फिर रानू मंडल की जिंदगी में ऐसा मोड़ आया कि वहां सड़क से महल तक पहुँच गई थी , लेकिन रानू मंडल की किस्मत फिर बदल गई और वहां महल से फिर सड़क तक पहुँच गई जैसे रानू की जिंदगी में फिर से अंधेरा छा गया।

ranu mandal1

कुछ सेकेंड का वीडियो वायरल होने के बाद रानू मंडल (Ranu Mondal) की ऐसी किस्मत बदली कि वह मशहूर हस्ती बन गईं। रानू की आवाज के लोग मुरीद हो गए और लगातार उनके प्रशंसकों की संख्या बढ़ती गई। लेकिन एक प्यार का नगमा है गाकर फेमस हुईं रानू मंडल की जिंदगी में एक बार फिर अंधेरा छा गया है।

ranu mandal2

संगीतकार हिमेश रेशमिया ने दिया था मौका

मशहूर संगीतकार हिमेश रेशमिया ने रानू को अपनी फिल्म में गाने का मौका दिया था। फिल्म का गाना ‘तेरी-मेरी कहानी’ काफी हिट हुआ था। लेकिन अब कोरोना वायरस की वजह से रानू की हालत फिर से खस्ता हो गई है। खबर है कि रानू को मुंबई में कोई काम नहीं मिल रहा है। वे इस समय राणाघाट के बेगोपारा में स्थित अपनी मौसी के घर में अकेली रह रही हैं। और पिछले दिनों जो कुछ कमाया ता उससे ही गुजारा कर रही हैं। सोशल मीडिया पर रानू के बारे में एक बार फिर से चर्चा शुरू हो गई है। यूजर्स कह रहे हैं चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात।

ranu mandal3

बता दें कि रानू मंडल अचानक ही एंटरटेनमेंट की दुनिया में सेंसेशन बन गईं। पश्चिम बंगाल के रानाघाट रेलवे स्टेशन पर लता मंगेशकर के मशहूर गीत ‘एक प्यार का नगमा है’ को गाकर रानू रातोंरात इंटरनेट पर छा गई थीं। इसके बाद उन्होंने हिमेश रेशमिया के साथ गाना गाया। इसके साथ ही वह कई रियलिटी शो भी बतौर गेस्ट बुलाई गई हैं। रानू मंडल को कई पब्लिक इवेंट में भी देखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *