24.9 C
India
Monday, September 20, 2021

तालिबान के जुल्म के बाद भी भगवान की आराधना कर रहे पुजारी राजेश कुमार, कहां नहीं छोडूंगा मंदिर

आज अफगानिस्तान के काबुल की स्थिति काफी ज्यादा दयनीय हो गई है। लाखों लोग अपनी जान बचाकर अफगानिस्तान को छोड़कर जाने को मजबूर हो गए हैं। बता दें कि पिछले कुछ दिनों में ही तालिबान ने काबुल पर कब्जा कर लिया है। जिसके कारण काबुल में रहने वाले लोगों को अपना शहर और अपनी धरोहर छोड़कर भागना पड़ रहा है। आज सोशल मीडिया पर अफगानिस्तान से जुड़े ऐसे कई वीडियोस मौजूद है। जिसमें आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि लोग किस तरह से अपनी जान को बचा कर अफगानिस्तान से निकलने को मजबूर है।

- Advertisement -

Ashraf Gani Taliban Mullah Baradar

जिस तरह से तालिबान ने काबुल पर अपना कब्जा जमाया है इसे साफ तौर पर अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह धीरे-धीरे पूरे अफगानिस्तान को भी अपने कब्जे में ले सकते हैं ऐसे में यहां रह रही सारी जनता अपने आप को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का प्रयास कर रही है। इसी मिट्टी परिस्थितियों में सभी देश अपने नागरिकों को सुरक्षित लाने का काम भी कर रहे हैं। जहां एक और सभी लोग अपने को सुरक्षित करने के लिए जी जान लगा रहे हैं ऐसे में एक खबर सामने यहां भी आ रही है कि सालों से यहां एक मंदिर में पूजा कर रहे पुजारी ने अपने देश लौटने से इनकार कर दिया है।

आज अफगानिस्तान के काबुल की स्थिति इतनी ज्यादा खराब हो गई है कि यहां के राष्ट्रपति अशरफ गनी भी अपने आप को बचाने के लिए इधर उधर भाग रहे हैं। सत्ता पूरी तरह से ठप हो गई है शासन प्रशासन भी तालिबानियों के सामने ज्यादा कुछ कर नहीं पा रहा है। ऐसे में लोग अपने आप को बचाने के लिए जी जान से लगे हुए हैं। लेकिन ऐसी विकराल परिस्थिति में भी मंदिर के पुजारी मंदिर को छोड़कर भागने को तैयार नहीं है और उन्होंने उसको लेकर साफ तौर पर कहा है कि वह आखरी दम तक भगवान की आराधना करते रहेंगे।

Pandit Rajesh Kumar

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि काबुल में स्थित रत्न नाथ मंदिर के पुजारी पंडित राजेश कुमार ऐसी खतरनाक स्थिति में भी अपने देश लौटने से इनकार कर दिया है उनका कहना है कि उनके पूर्वज कई सालों से इस मंदिर की पूजा अर्चना करते आए हैं। चाहे परिस्थिति कैसे भी बन जाए मैं इस मंदिर को छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा है कि तालिबान द्वारा उनके साथ जो भी जुल्म किया जाएगा वह उसे अपनी सेवा समझेंगे। जहां से एक और लाखों लोग अपने आपको सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में यह पुजारी भगवान की आराधना में लीन है।

वही मंदिर के पुजारी के साहस को देखकर देश में अब उन्हें सुरक्षित लाने की मांग जोरों पर चल रही है खबरों की माने तो विप्र सेना प्रमुख सुनील तिवारी ने भारत सरकार से मांग की है कि मंदिर के पुजारी राजेश कुमार को सही सलामत देश लाना चाहिए। और उनकी भगवान के प्रति श्रद्धा और आस्था को देखते हुए मंदिर का निर्माण भी किया जाना चाहिए। फिलहाल तो काबुल की स्थिति काफी ज्यादा खराब होती जा रही है तालिबानियों द्वारा लगातार पूरे देश पर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!