Categories: राजनीति

आखिर क्यों बीजेपी नेता कपिल मिश्रा को केजरीवाल सरकार से मांगनी पड़ी माफ़ी

भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के नेता और दिल्ली हिं-सा में विवादों से घिरे कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार से कोर्ट में माफी मांगी है। दिल्ली हिंसा के बाद कपिल मिश्रा द्वारा दिल्ली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री पद पर कार्य कर रहे सत्येंद्र जैन के ऊपर करोड़ों रुपए के भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए थे। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अपने ऊपर लगे आरोपों के खिलाफ कपिल मिश्रा के ऊपर मानहानि का केस दर्ज किया था।

कपिल मिश्रा द्वारा आरोप साबित नहीं किए जा सके, जिसके चलते कपिल मिश्रा द्वारा इस मामले में कोर्ट में सशक्त माफी मांग ली गई है। दिल्ली स्थित राउज वेन्यू कोर्ट जहां इस मामले की सुनवाई हो रही थी, वहां पर कपिल मिश्रा द्वारा माफी मांगी गई और उसके पश्चात इस केस को बंद कर दिया गया।

माफी ना मांगने पर सजा की धमकी

राउज वेन्यू कोर्ट जहां इस मामले की सुनवाई हो रही थी वहां यह मामला बंद हो जाने के बाद आम आदमी पार्टी के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन एवं सौरभ भारद्वाज द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इस कॉन्फ्रेंस में दोनों नेताओं ने कपिल मिश्रा को आड़े हाथों लिया। दोनों नेताओं की यह मांग थी कि भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा टि्वटर पर माफी मांगे अन्यथा जेल जाने के लिए तैयार रहें। आम आदमी पार्टी के दोनों नेताओं ने यह बताया कि कपिल मिश्रा ने कोर्ट में माफी मांग ली है। उन्होंने यह कबूल किया है कि यह पॉलिटिकली मोटिवेटेड मामला था लेकिन अब वह सार्वजनिक रूप से माफी मांग रहे हैं।

आरोप साबित नहीं कर पाए कपिल मिश्रा

आम आदमी पार्टी के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि 2017 में जब कपिल मिश्रा को उनके कार्यों की वजह से मंत्रिमंडल से बाहर किया गया तो वह भड़क गए और आम आदमी पार्टी पर अनैतिक आरोप लगाने लगे। भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने यह आरोप लगाया था कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को सत्येंद्र जैन ने दो करोड़ रुपए दिए और ऐसा करते हुए कपिल मिश्रा ने उन्हें देखा था। कपिल मिश्रा अपने अधिकारिक या ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से सभी से इस कार्य के लिए माफी मांगे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सौरभ भारद्वाज ने कहा कि कपिल मिश्रा द्वारा सत्येंद्र जैन पर जो आरोप लगाए गए हैं वह बिल्कुल निराधार थे उनका कोई सबूत नहीं था। क्योंकि कपिल मिश्रा का कहना है उन्होंने दो करोड़ रुपए सीएम अरविंद केजरीवाल को देते हुए सत्येंद्र जैन को देखा। लेकिन इतनी बड़ी रकम किसी बैग में तो लाए होंगे और उस वक्त पुलिस का कड़ा पहरा था, तो इतने कड़े पहरे में सत्येंद्र जैन को किसी ने भी बैग लाते हुए नहीं देखा यह कैसे संभव है। कोर्ट द्वारा जब कपिल मिश्रा से इस बारे में सवाल पूछे गए तो वहां कुछ भी बताने में समर्थन नहीं हुए।

कपिल मिश्रा को ऐसी ही अनैतिक हरकतों की वजह से आप पार्टी से निकाला गया था जिसके बाद बीजेपी ने उन्हें सहारा दिया और आज कपिल मिश्रा की इन हरकतों की वजह से बीजेपी कटघरे में है। सौरभ भारद्वाज ने यह भी कहा कि कपिल मिश्रा ने कोर्ट में यह कबूल किया है किया आरोप पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित था जिससे स्वास्थ्य मंत्री उपेंद्र जैन की छवि को खराब किया जा सके। कपिल मिश्रा द्वारा जो यह कार्य किया गया है यह वास्तव में बीजेपी द्वारा करवाया गया है।

nipen das

Author at Viralsandesh and Editor in Viral News Media

Leave a Comment