जबरदस्त जीत, भारतीय महिला हॉकी टीम ने अमेरिका को दिखाएँ तारे, टीम को 5-1 से रौंदा

रूस के खिलाफ यहां कलिंगा स्टेडियम में शुक्रवार को होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर में मैच से पहले गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने भारत को विपक्षी टीम को हल्के में न लेने की सलाह दी श्रीजेश ने ट्वीट किया, “यह मायने नहीं रखता आप कितना सामना कर सकते आपको अपना स्कोरबोर्ड साफ रखना है।” मनप्रीत सिंह की कप्तानी में भारतीय टीम विश्व रैंकिंग में पांचवें पायदान पर मौजूद हैं और वर्ल्ड नंबर- 22 रूस के खिलाफ जीत की प्रबल दावेदार है। मनप्रीत ने श्रीजेश की बात को दोहराया और कहा कि मैच के प्रति आत्मविश्वास के शिकार नहीं होंगे।

ओलंपिक क्वालीफायर मुकाबले में 11 मिनट के अंतराल में दागे 4 गोल, ओलंपिक में जगह की दावेदारी पुख्ता की। भारतीय महिला हॉकी टीम ने तूफानी प्रदर्शन करते हुए शुक्रवार को यहां कलिंगा स्टेडियम में अमेरिका को ओलंपिक क्वालीफायर्स के पहले मैच में 5-1 से रौंदकर 2020 के टोक्यो ओलंपिक में जगह बनाने के लिए अपनी दावेदारी पुख्ता कर ली। रानी रामपाल की अगुवाई में 9 वीं रैंक वाली महिला टीम 13 वें नंबर की टीम अमेरिका को आखिरी दो क्वॉर्टर में तारे दिखा दिए। भारत के तीसरे और चौथे क्वार्टर में 11 मिनट के अंतराल में 4 गोल दाग कर अमेरिका का सारा संघर्ष समाप्त कर दिया अमेरिका ने अंतिम मिनटों में अपना एकमात्र गोल किया।

भारत के लिए एकतरफा मैच में चार अलग-अलग खिलाड़ियों ने गोल किए। मेजबान टीम की ओर से गुरजीत कौर ने दो जबकि लिलीमा मिंज, शर्मिला देवी और नवनीत कौर ने एक-एक गोल किया।अमेरिका के लिए एकमात्र गोल एरिन मैटसन ने दागा। पहला क्वार्टर गोल रहित रहा लेकिन स्टेडियम पहुंचे हजारों दर्शकों को दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। भारत ने पहले मिनिट में ही अटैकिंग हॉकी खेलने का प्रयास किया जिसका अमेरिका ने भी बखूबी जवाब दिया दोनों टीमों के बीच दूसरे लेग का मैच शनिवार को खेला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *