सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर पर लगी पेंटिंग का क्या है रहस्य? उनके जीवन की गुत्थी से है जुड़ी

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत निधन मामले को 9 महीने से ज्यादा का समय बीत चुका है। लेकिन अभी भी यह मामला जांच एजेंसियों के दायरे में चल रहा है। और सुशांत के फैंस और परिवार वालों को अभिनेता को न्याय को लेकर बहुत ज्यादा उम्मीद है। इसके लिए वे लगातार न्याय की मांग भी कर रहे हैं। अभिनेता के निधन के बाद से ही अक्सर देखने में आता है कि उनके फैंस सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार इस मामले में न्याय की मांग करते हुए नजर आते हैं।

sushant singh painting3

वही हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर हैंडल पर लगा कवर फोटो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। इस फोटो को लेकर अलग-अलग तरह की कहानियां बताई जा रही है कोई से अच्छा तो कोई इसे मनहूस बता रहा है। बता दें कि अभी तक कोई भी इस फोटो से संबंधित सही जानकारी दे नहीं पाया है।

सुशांत के ट्विटर कवर पर लगी है Starry Nights पेंटिंग

sushant twitter painting

दरअसल, अभिनेता द्वारा अपने ट्विटर के कवर पिक में जो तस्वीर लगाई है। उसे Starry Nights के नाम से जाना जाता है। बताया जाता है कि इस पेंटर को विंसेंट वैन गॉ ने 1889 में बनाया था। विंसेंट ने इस पेंटिंग को किस मकसद से बनाया था ये किसी को मालूम नहीं। लेकिन आज अभिनेता के इस दुनिया में मौजूद नहीं होने के बाद इस तस्वीर को लेकर कई तरह की कहानियां गढ़ी जा रही है। बता दें कि हर पेंटिंग बनाने वाले का एक अपना अलग नजरिया होता है और वहां उसके अनुसार ही पेंटिंग को बनाता है।

पेंटिंग बनाने वाले ने कर ली थी जीवन लीला समाप्त

sushant singh painting

जानकारी के मुताबिक विंसेंट इस पेंटिंग को बनाने के दौरान दृष्टिभ्रम अन्य मानसिक समस्याओं से पीड़ित थे और उन्हें इस दौरान कई अजीबोगरीब ख्याल भी आते थे। जिसके कारण वे बीमार हो गए और गहरे चिंतन में चले गए। बताते हैं कि इस तस्वीर को पूरा करने के बाद विंसेंट ने खुद ही अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली थी। लेकिन उन्होंने ऐसा क्यों किया इसकी जानकारी आज तक किसी को पता नहीं चल पाई है।

पेंटिंग को बताया अवसाद

sushant singh painting1

बताया जाता है कि विंसेंट ने ये तस्वीर अपनी खिड़की के बाहर के नज़ारे को देखकर बनाई थी। बता दें कि कुछ ऐसा ही हादसा सुशांत सिंह राजपूत के साथ में भी घटित हुआ जिसके चलते लोग इस पेंटिंग को अवसाद बता रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *