24.8 C
India
Monday, September 20, 2021

मध्यप्रदेश की पहली महिला बस ड्राइवर बनी रितु नरवाले, जिन्होंने थामा महिला बस का स्टेयरिंग

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर शहर ने स्वच्छता में चार बार अपना परचम लहराया है। शहर की सुंदरता और ट्रांसपोर्टेशन व्यवस्था खूब इंप्रेस करती है। बता दें कि शहर में चलने वाली बीआरटीएस बस में शहर के हजारों लोग रोजाना सफर करते हैं। शहर की बीआरटीएस व्यवस्था काफी ज्यादा सफल रही है। इन बसों में महिलाओं के लिए भी काफी उत्तम व्यवस्था रखी गई है। इतना ही नहीं महिलाओं के लिए बीआरटीएस द्वारा पिंक बसों को चलाया जा रहा है जो स्पेशली महिलाओं के लिए ही संचालित हो रही है।

- Advertisement -

ritu narvale indore

लेकिन इन बसों को अभी तक पुरुष कंडक्टर और ड्राइवर द्वारा ही संचालित किया जा रहा था लेकिन गुरुवार को इंदौर शहर में एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया बता दें कि शहर की रहने वाली थी रितु नरवाले ने महिलाओं को बिठाकर बीआरटीएस के ट्रैक पर चलाई बता दें कि वह प्रदेश की पहली महिला बस ड्राइवर बनी है। जो इस तरह से महिलाओं को बिठाकर बस चलाते हुए नजर आ रही है। इस कारनामे को करने के लिए उन्होंने काफी समय तक ट्रेनिंग ली है और पूरा अभ्यास करने के बाद में यह पिंक बस को वे चलाती हुई नजर आई।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेस लिमिटेड के द्वारा साल 2020 में महिलाओं को उत्तम यातायात व्यवस्था और उनकी सुरक्षा को देखते हुए पिंक बस का संचालन चालू किया गया था। वही इन बसों को चालू करने के बाद से ही बीआरटीएस का लगातार प्रयास रहा है कि इन बसों का संचालन भी महिला कंडक्टर और ड्राइवर द्वारा चलाया जाए। लेकिन अभी तक ऐसी कोई महिला ड्राइवर नहीं मिलपाने के कारण इन बसों को पिछले काफी समय से पुरुष ड्राइवर और कंडक्टर द्वारा ही संचालित किया जा रहा था।

ritu narvale indore 1

लेकिन पिछले काफी महीनों से 2 महिलाओं द्वारा इन बसों को चलाने के लिए ट्रेनिंग की जा रही थी जिसमें गुरुवार को रितु ने बीआरटीएस के ट्रैक पर पिंक बस को लगभग 50 स भाइयों के साथ में दौड़ाया हालांकि इस दौरान उनके साथ एक अधिकारी भी मौजूद रहे लेकिन उन्होंने बस को पूरी सुरक्षा और पूरे कॉन्फिडेंस के साथ में चलाया। वही बस को सवारी के साथ चलाने से पहले रितु ने तकरीबन 2 घंटे तक ट्रेनिंग ली उसके बाद उन्होंने सुबह 7:00 बजे बस को चलाया जिसके बाद उन्होंने लगभग बीआरटीएस के ट्रैक के दो चक्कर काटे और इस दौरान वे पूरे कॉन्फिडेंस से बस को चलाती हुई नजर आई।

वही बस को चला रही रितु के साथ उन्हें ट्रेनिंग देने वाले सुपरवाइजर जयंत पाल ने बताया कि रितु ने तकरीबन 50 महिला सवारी को बिठाकर निरंजनपुर से राजीव गांधी सर्कल के बीच 2 चक्कर लगाए। और इस दौरान उन्होंने पूरी सावधानी के साथ में बस को चलाया। वही इस तरह से महिला ड्राइवर द्वारा बस को चलाते हुए देख बस में मौजूद महिला सवारियों ने भी उनका जमकर तारीफ की और उनके बीच में भी काफी खुशी का माहौल है।

वहीं एआईसीटीएसएल प्रवक्ता माला ठाकुर ने बताया कि रितु को इस तरह से बस चलाते देख महिलाओं के बीच में भी काफी खुशी का माहौल है उन्हें भी काफी दर्द महसूस हो रहा है कि आज उन्होंने एक महिला ड्राइवर के साथ में सफर किया है। इस दिन का आईसीसीएसएल द्वारा काफी समय से इंतजार किया जा रहा था और आज वहां इंतजार खत्म हुआ हालांकि रितु को अभी और भी ट्रेंड किया जाएगा और जब वह पूरे कॉन्फिडेंट में हो जाएंगी तब उन्हें फुल टाइम पिंक बस को चलाने का मौका दिया जाएगा इतना ही नहीं उन्होंने बताया कि रितु प्रदेश की पहली महिला ड्राइवर भी बन गई है।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!