नेपोटिज्म के बाद भी नहीं सुधरे करण जौहर, अब किया भारतीय सेना का अपमान

जाह्रवी कपूर की फिल्म गुंजन सक्सेना को सभी का भरपूर प्यार मिल रहा है. फिल्म को रिव्यू भी बढ़िया मिले हैं. लेकिन अब गुंजन सक्सेना अलग ही मुसीबत में फंसती दिखाई दे रही है. भारतीय वायुसेना ने सेंसर बोर्ड को चिट्ठी के जरिए बताया है कि फिल्म में उनकी खराब और गलत छवि दिखाई गई है. भारतीय वायुसेना कभी भी लिंग के नाम पर भेदभाव नहीं करती है.

अब जैसे ही ये खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, धर्मा प्रोडक्शन के हेड करण जौहर को जमकर ट्रोल किया जाने लगा. सोशल मीडिया पर करण जौहर के खिलाफ कई तरह की बाते कहीं जा रही हैं. कोई उन पर नेपोटिज्म का आरोप लगा रहा है तो कई तो ऐसे भी हैं जो डायरेक्टर को देशद्रोही तक बता रहे हैं. इस समय ऐसे कई ट्वीट्स वायरल हो गए हैं.

गुंजन सक्सेना की वजह करण जौहर ट्रोल

एक यूजर लिखते हैं- करण जौहर तो नेपोटिज्म के मेंटर हैं. अब तो गुंजन सक्सेना को एयर फोर्स की तरफ से भी लताड़ा गया है. इस फिल्म को बायकॉट करना चाहिए. वहीं दूसरे यूजर ने तो इसे अधर्म करार दिया है. वो लिखते हैं- बॉलीवुड फिल्मों से देशभक्ति की मांग करना बेकार है. ऐसी एंटी भारत फिल्मों को सिर्फ बायकॉट किया जा सकता है.

उद्देश्य ही अधर्म फैलाना

करण की धर्मा प्रोडक्शन का तो यही उदेश्य है-अधर्म फैलाओ. एक यूजर ने तो ट्वीट कर दोनों एकता कपूर और करण पर निशाना साधा है. कहा गया है कि ये दोनों ही भारतीय सेना के खिलाफ हैं. कुछ लोग तो यहां तक कह रहे हैं कि वे इस फिल्म को देखने के बजाय गुंजन सक्सेना की किताब पढ़ लेंगे.

अब पहले से नेपोटिज्म की वजह से सभी के निशाने पर रहे करण जौहर के लिए गुंजन सक्सेना का ये विवाद नई मुसीबत बन गई है. जिस फिल्म को अभी तक पसंद किया जा रहा था, अब अचानक से उसी के खिलाफ लोग मुहिम चला रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *