करिश्मा के हौसले को मिला न्याय: BMC पोल से हटाया गया मस्जिद का अवैध लाउडस्पीकर

मुंबई के मानखुर्द इलाके में स्थित मस्जिद से आज अवैध लाउडस्पीकर हटा दिया गया। इसकी जानकारी भाजपा सांसद किरीट सौमैया ने अपने ट्विटर हैंडल से दी। उन्होंने लिखा, “मानखुर्द की करिश्मा भोंसले को न्याय मिल गया। आज बीएमसी के खंबे से अवैध लाउडस्पीकर हटा दिया गया।”

बता दें, कुछ समय पहले करिश्मा भोंसले चर्चा में आई थीं। उन्होंने मानखुर्द में एक मस्जिद के लाउडस्पीकर की आवाज कम करने को कहा था। लेकिन मुस्लिम समुदाय के लोगों ने उनकी बात सुनने की जगह उनसे बहस शुरू कर दी। बात बढ़ने पर वहाँ आपसी झड़प भी हुई। मुस्लिम समुदाय ने करिश्मा को धमकाया भी।

इस घटना के बाद करिश्मा ने जब स्थानीय विधायक से इस सम्बन्ध में मदद माँगी तो उन्होंने सलाह दी कि यदि उन्हें लाउडस्पीकर की आवज से परेशानी है तो उन्हें अपना घर बदल लेना चाहिए।

फिर, करिश्मा भोंसले ने इस घटना का वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया। साथ ही लिखा, “मुंबई के मानखुर्द में रहती हूँ। बहुत कम उम्मीद थी कि मेरी बात सुनी जाएगी, फिर भी मैं पास की मस्जिद में सम्बन्धित लोगों से अनुरोध करने के लिए गई कि वो उस लाउडस्पीकर (अज़ान) की आवाज कम कर दें, जो कि मेरी खिड़की के ठीक सामने लगा है। लेकिन यह प्रयास व्यर्थ रहा।”

ट्वीट की एक शृंखला में करिश्मा ने कुछ वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा था कि जब वो सम्बन्धित लोगों से बात करने वहाँ पहुँची तो कुछ ही देर में वहाँ काफी लोग इकट्ठे हो गए और बहस शुरू हो गई।

करिश्मा को यह भी बोला गया कि तुम्हारे मंदिर में भी तो घंटा बजता है और क्या हम स्पीकर किसी के घर में लगा रहे हैं? जिसपर युवती ने जवाब दिया कि अगर मंदिर में घंटी बजती है तो उन्हें वहाँ जाकर अपनी बात रखनी चाहिए।

करिश्मा ने वो स्क्रीनशॉट भी शेयर किए थे जिसमें स्थानीय विधायक अबू आसिम आजमी ने उनसे कहा था कि यदि अजान की आवाज से समस्या है तो उन्हें वह जगह छोड़ देनी चाहिए।

करिश्मा के इन ट्विट्स के बाद ही यह मामला सबके संज्ञान में आया था और आज 2 महीने के भीतर इस मामले पर सुनवाई हो गई। लोगों ने लाउडस्पीकर हटने की खबर सुनने के बाद करिश्मा को उनकी हिम्मत के लिए बधाई भी दी।

Leave a Comment