मच्छरों ने काटा तो महिला ने बच्चों के साथ मिलकर पति को पीटा, थाने में शिकायत दर्ज

अहमदाबाद: गुजरात में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। मच्छर काटे तो इंसान मच्छर को या तो भगाने का इंतजाम करता है या फिर उसे मार देता है। लेकिन मच्छर के काटने के बाद कोई अपने पति को नहीं मारता। दरअसल, एक महिला ने अपने पति की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि उसे मच्छर ने काटा था। मां के साथ बेटी ने भी अपने कपड़े साफ करने वाले डंडे से पिता को खूब पीटा। पति ने इलाज के बाद थाने में शिकायत दर्ज कराई और न्याय की गुहार लगाई। पुरुषवादी संगठन भी उसके पक्ष में खड़ा हो गया है।

भूपेंद्र अहमदाबाद के नरोदा इलाके में अपने परिवार के साथ रहता है। भूपेंद्र ने बताया कि उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। यही कारण है कि वह अपनी कार से ही एलईडी की बिक्री करते हैं। आमदनी काफी कम होने के कारण पिछले 2 महीने से बिजली के बिल का भुगतान नहीं कर पा रहा थे। इस वजह से उनके घर की बिजली का कनेक्शन काट दिया था। भूपेंद्र ने बताया कि मंगलवार रात वह अपनी पत्नी संगीता और बेटी चितल के साथ सो रहे थे।

पति को जमीन पर गिरा दिया और खुब की धूनाई
पीड़ित पति ने बताया कि बुधवार सुबह संगीता ने शिकायत की कि उसे मच्छर काट रहे और पंखे को नहीं चलाने की वजह से उनकी समस्या बढ़ गई है। उस दिन उनके घर में बिजली नहीं आ रही थी, क्योंकि बिजली के बिल का भुगतान नहीं किया था। मच्छर काटने से गुस्साई पत्नी संगीता किचन में गई, और मुसल लेकर आ गई। संगीता ने अपने पति को जमीन पर गिरा दिया और जमकर पिटाई की।

यही नहीं, संगीता की बेटी भी ढो़खा से पिटाई करने लगी। चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी घर में आ गये। पड़ोसी ने भूपेंद्र के छोटे भाई महेंद्र को बुलाया। महेंद्र ने भूपेंद्र को छुड़वाया और अस्पताल ले गए। भूपेंद्र ने अपनी बेटी और पत्नी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई है। उधर, अखिल भारतीय पत्नी अत्याचार संघ के अध्यक्ष देवड़ा का कहना है कि पुलिस आईपीसी की साधारण धारा लगाकर मामले को रफा-दफा करने का प्रयास कर रही है। भूपेंद्र की पत्नी व बच्चों के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। 19 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस है पुरुषवादी संगठन इस दिन समारोह की तैयारी भी कर हैं।

Leave a Comment