आतंकवादी याकूब मेमन की फांसी का विरोध करने वाले कांग्रेसी नेता बने उद्धव ठाकरे की सरकार में मंत्री

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर ऐसे आरोप हो तो फिर बीजेपी के नेताओं को भी निकालना पड़ेगा कि किस-किस ने समर्थन दिया है। उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल विस्तार करने के बाद पहली बार पीसी कर रहे थे। याकूब मेनन की दया याचिका पर साइन करने वाले कांग्रेस नेता असलम शेख के मंत्री बनने पर महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने सफाई दी है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य के हालात को समझने वाले अनुभवी नेता मंत्रिमंडल में शामिल किए गए हैं। यह टीम राज्य के लिए बेस्ट टीम होगी। अलग अलग विचारधारा की पार्टी है, फिर भी जनता के प्रश्न सुलझाने के लिए हम सब एक साथ आए हैं। एक परिवार की तरह हमें काम करना है। राज्य के हित के लिए काम करना है। किसी विशेष विषय को लेकर भूमिका अलग हो सकती है पर राज्य के विकास का विचार हमें करना है। 8 जनवरी को विशेष अधिवेशन बुलाया गया है। एक-दो दिन में मंत्रियों को उनके पोर्टफोलियो दिए जाएंगे।

बता दे, कांग्रेस विधायक असलम शेख ने भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को पत्र लिखा था। जिसमें उन्होंने 1993 के मुंबई बम धमाकों के दोषी याकूब मेनन के लिए दया की अपील की थी। याकूब मेनन को 1993 के मुंबई बम धमाकों के लिए फांसी की सजा दी गई थी। शेख ने मंत्री बनाए जाने के बाद पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं को धन्यवाद देते हुए कहा था, “हम जैसे एक मामूली से आदमी को मंत्री पद मिलेगा, यह मैंने सोचा भी नहीं था। हमारे पास कोई पॉलिटिकल बैकग्राउंड नहीं, हमारे पास कोई कारखाना नहीं है, फिर भी हमें हमारे वरिष्ठ नेताओं ने इस काबिल समझा। मैं सब का धन्यवाद करता हूं।”

असलम शेख महाराष्ट्र कांग्रेस के एक नेता हैं। वर्तमान में मलाड पश्चिम विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। महाराष्ट्र में सोमवार को मंत्रिमंडल विस्तार में असलम शेख को भी मंत्री बनाया गया है। असलम शेख को महाराष्ट्र के कैबिनेट में मंत्री बनाए जाने पर बीजेपी ने सवाल खड़े किए थे। महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार सोमवार को हुआ। उद्धव ठाकरे ने पहले मंत्रिमंडल विस्तार में NCP नेता अजीत पंवार को उपमुख्यमंत्री का पद दिया है। इस मंत्रिमंडल विस्तार में उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे समेत शिवसेना, NCP और कांग्रेस से 36 नए विधायकों को मंत्री बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *