अंधविश्वास : महिला शिक्षिका ने की 13 के बच्चे से शादी, सुहागरात मनाई बाद में हो गई विधवा!

अपनी जरूरत से ज्यादा पाने की चाह इंसान को कितना नीचे गिरा सकती है। इसका आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं। ऐसा हमे इस लिए कहना पड़ रहा है। जो मामला अब हम आपको बताने जा रहे हैं। उसे सुन आप भी कुछ ऐसा ही सोचने पर मजबूर हो जाएंगे।

पूरी रस्मों के साथ किया विवाह

female teacher punjab2

दरअसल, हाल ही में पंजाब के जालंधर से अंधविश्वास का एक ऐसा मामला सामने आया है। जिसने सभी को हैरान कर दिया है। बताया जा रहा है कि अपनी शादी न होने से परेशान महिला शिक्षक ने अपने ही एक 13 साल के छात्र के साथ शादी रचा ली। इतना ही नहीं इस शादी को पूरी रस्मों के साथ किया गया। और बाद में शिक्षिका ने 13 साल के मासूम के साथ सुहागरात तक माना ली। इतना होने के बाद भी शिक्षिका का अंधविश्वास पूरा नहीं हुआ और विधवा होने का नाटक भी कर डाला।

female teacher punjab3

वहीं अंधविश्वास का यह अजीबो गरीब मामले ने तूल पकड़ी ली है। और इसके बारे में जिसने भी सुना। वह भी आश्चर्यचकित रह गया। जिस शिक्षिका को बच्चों के भविष्य बनने के लिए स्कूल में रखा गया है। वहीं अपने अंधविश्वास के चलते बच्चों के भविष्य के साथ खिलबाड़ कर रही हैं। आज हम 21 वीं सदी में हैं। लेकिन इसके बावजूद भी कई लोग अंधविश्वास पर आंख मीचकर विश्वास कर लेते हैं। और कई बड़ी घटना को अंजाम देने से भी बाज नहीं आते।

किस तरह से अपनी बातों में लिया

female teacher punjab1

गौरतलब है कि इस पूरे मामले की जानकारी मिलने के बाद बच्चे के परिवार वालों ने इसकी शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद उन्हें उनका बेटा मिल पाया। सूत्रों ने अनुसार अंधविश्वास में चूर टीचर ने स्टूडेंट को ट्यूशन का लालच देकर 6 दिन तक अपने घर में रोके रखा और बाकायदा पूरी रस्मों को निभाते हुए इन शादी को किया गया।

female teacher punjab4

इस पूरे मामले में सोचने वाली बात है कि आज भी लोग अंधविश्वास से पूरी तरह उभर नहीं पाए हैं। जहां एक और शिक्षिका ने अपने निजी स्वार्थ के लिए। एक 13 के मासूम की जिंदगी से खेलना भी गलत नहीं समझा। यह मामला दर्षाता है कि आज भी लोगों को अंधविश्वास के प्रति जागरूक करने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *