जज्बे को सलाम: 1 पैर से चलकर स्कूल जाती है 10 साल की ये बेटी, अब सोनू सूद करेंगे मदद जल्द चल सकेगी दोनों पैरों से

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद कोरोना काल से जरूरतमंद लोगों की मदद करते आ रहे हैं। सोनू सूद ने आज अपनी लोकप्रियता अभिनेता से ज्यादा एक मसीहा के रूप में बना ली है। बता दें कि अभिनेता हमेशा ही सोशल मीडिया पर लोगों की मदद करते हुए नजर आते हैं। इतना ही नहीं उनकी टीम 24 घंटे एक्टिव रहती है जो जरूरतमंदों की सहायता करती हैं।

google news
Divyang seema got help of sonu sood

अभिनेता करुणा काल से अब तक कई लोगों की मदद कर चुके हैं उन्होंने हर संभव मदद करने की कोशिश की है और आज भी वे जरूरतमंद लोगों की सहायता करते हुए दिखाई देते हैं आज सोनू से अपनी अदाकारी से ज्यादा अपनी सहायता के लिए चर्चा का विषय बना देते हैं। हाल ही में उन्होंने 11 साल के सोनू की मदद की जिम्मेदारी उठाई थी।

वहीं अब एक बार फिर अभिनेता सोनू सूद का प्यारा चर्चाओं में है। अभिनेता अब बिहार की रहने वाली दिव्यांग बेटी की सहायता करने के लिए आगे आएं हैं। बता दें कि यह बेटी एक पेड़ से दिव्यांग होने के बाद भी तकरीबन 1 किलोमीटर का सफर तय कर स्कूल जाती है। जब से बेटी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है इसके बाद से ही इस बेटी के हौसले को सलाम किया जा रहा है।

बिहार की रहने वाली इस दिव्यांग बेटी का नाम सीमा है जिसका पैर एक हादसे के बाद काटना पड़ गया था लेकिन इसके बाद भी बेटी ने हार नहीं मानी और एक पैर की सहायता से ही वह रोजाना 1 किलोमीटर चल कर स्कूल जाती है। सीमा का यह वीडियो सामने आने के बाद से ही काफी ज्यादा चर्चाओं का विषय बना हुआ है। बेटी के पढ़ाई के जज्बे को देखकर हर कोई उन्हें सलाम कर रहा है।

google news

बता दें कि यहां वीडियो सामने आने के बाद अब जरूरतमंद लोगों के मसीहा कहलाने वाले अभिनेता सोनू सूद इस दिव्यांग बेटी की सहायता करने के लिए आगे आए है। सोनू सूद ने खुद इस बेटी की सहायता को लेकर ट्वीट किया है इस बात की जानकारी साझा की है कि वे अब इस बेटी की सहायता करने वाले हैं जो अब यह दोनों पैर से चलकर स्कूल जाएगी। इस समय आ गया है। उन्होंने कहा कि वे टिकट भेज रहे हैं साथ ही उन्होंने वीडियो भी साझा किया है।

सीमा बिहार के जमुई की रहने वाली है जो कि एक गरीब परिवार से आती है और पढ़ाई को लेकर काफी ज्यादा एक्टिव है जो बड़ी होकर एक अच्छी टीचर बनना चाहती है लेकिन परिवार वाले इतनी ज्यादा गरीब है कि पिता मजदूरी करते हो और मां के भक्तों पर काम करती है और घर में पांच भाई बहन है ऐसे में वे इस बेटी की ज्यादा सहायता नहीं कर पा रहे हैं ऐसे में सोनू सूद ने सीमा की सहायता करने का जिम्मा उठाया है।

Stay Connected

272,586FansLike
3,667FollowersFollow
18FollowersFollow
Follow Us on Google Newsspot_img

Latest Articles