22.7 C
India
Sunday, October 17, 2021

वकील का दावा, योगी सरकार को बदनाम करने के लिए प्रियंका ने तक को दिए 5 करोड़

हाथरस केस में विपक्षी पार्टियाँ तो राजनीति कर ही रही हैं साथ ही इस मामलें को कवर कर रही कुछ मीडिया संस्थान की भी भूमिका संदिग्ध है। इन सबके बीच सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने चौंकाने वाला खुलासा किया है, वकील का दावा है कि हाथरस केस में योगी सरकार को बदनाम करने के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक मीडिया हाउस को करोड़ों रूपये दिए हैं।

- Advertisement -

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने अपने ट्वीट में लिखा, योगी सरकार को बदनाम करने और UP में जातीय संघर्ष करवाकर सियासी रोटी सेंकने निकले राजनीतिक गिद्धों की मदद के लिए मीडिया गिद्ध उतर गए हैं। उन्होनें आगे लिखा, नार्को टेस्ट में पूरा षड्यंत्र सामने आने वाला है। मिसेज वाड्रा नें टीवी टुडे ग्रुप को 5 करोड़ दिए।

मिसेज वाड्रा यानि रॉबर्ट वाड्रा की पत्नी प्रियंका गांधी ने टीवी टुडे ग्रुप को 5 करोड़ दिए हैं कि नहीं ये तो जांच का विषय है परन्तु इण्डिया टुडे की पत्रकार तनुश्री पांडेय का एक ऑडियो वायरल हो रहा है, जिसे सुनने के बाद साफ़ अंदाजा लगाया जा सकता है कि सरकार के खिलाफ मीडिया के जरिये साजिश रची जा रही है।

पिता को तैयार किया योगी सरकार के खिलाफ

पूरे ऑडियो बातचीत में इंडिया टुडे की महिला पत्रकार साफ तौर पर पीड़िता के भाई संदीप को इस बात के लिए तैयार कर रही है कि वह पीड़िता के पिता से यह बयान देते हुए वीडियो बनाए की वह सरकार से असंतुष्ट है और उसपर प्रशासन की तरफ से दबाव डाला जा रहा है। वह साफ तौर पर संदीप से यह कहते सुनी जा सकती हैं कि तुम लोगों ने एक वीडियो प्रियंका गांधी को जो बनवाकर दिया था वह उसे ट्वीट कर चुकी हैं और वह सब जगह चल गया है.

इसके बाद महिला पत्रकार पीड़िता के चचेरे भाई संदीप से कहती है कि प्लीज संदीप किसी तरह से एक वीडियो सीधे मुझे बनवाकर उसके पिताजी के बयान वाला भेज दो जिसमें वह कह रहे हों कि मेरे ऊपर बहुत प्रेशर है, मुझे प्रशासन के द्वारा प्रेशर देकर कहा गया बयान देने को कि मैं सतुष्ट हूं जबकि मैं इस मामले से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हूं।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!