पीवी सिंधु : कड़ी मेहनत और ट्रेनिंग के बूते हासिल की जबरदस्त फिटनेस !

पीवी सिंधु की स्वर्णिम सफलता के पीछे उनकी जबरदस्त फिटनेस का भी हाथ है। लेकिन इसे हासिल करने के लिए 24 वर्षीय सिंधु ने काफी कडी मेहनत और कठिन ट्रेनिंग की

सुबह चार बजे से शुरुआत

सिंधु कोच गोपीचंद की अकादमी में ट्रेनिंग करती हैं। वह यहां करीब 12 सालों से ट्रेनिंग कर रही हैं। सिंधु का अभ्यास सत्र सुह चार बजे से शुरू हो जाता है। वर्कआउट के दौरान वह
कार्डियो, रनिंग, योगा, स्वीमिंग और प्राणायाम करती हैं। इसके अलावा, प्रतिदिन 100 पुश अप और करीब 200 सिटअप करती हैं। छह या सात बजे तक ट्रेनिंग करने के बाद सिंधु
ब्रेकफास्ट करती हैं।

आठ घंटे अभ्यास:

सिंधु प्रतिदिन करीब आठ घंटे और सप्ताह में छह दिन ट्रेनिंग करती हैं। इस दौरान वह
हजारों बार शटल के साथ अपने खेल को निखारती हैं।

डाइट प्लान

ब्रेकफास्ट : दूध, अंडे, ताजे फल

लंच:चावल, मीट,
बहुत सारी सब्जियां

डिनर

चावल, मीट, सब्जियां।

इसके अलावा, सिंधु ज्यादा से ज्यादा पानी और तरल पदार्थ पीती हैं। वहीं, चीनी बिल्कुल नहीं खाती और काफी हाई प्रोटीन लेती हैं। अभ्यास के दौरान उनके पास हमेशा डाई-फूट की भरमार रहती है और वह जूस भी काफी मात्रा में पीती हैं। उनका डाइट चार्ट एक महीने पहले से ही तैयार रहता है और वह इसे फॉलो करने में कोई कोताही नहीं बरतती हैं।

चॉकलेट और मां के हाथ की बनी बिरयानी भी छोड़ी

सिंधु खाने-पीने की काफी शौकीन थीं लेकिन बैडमिंटन में सफलता हासिल करने के लिए उन्होंने काफी त्याग किया। सिंधु को चॉकलेट, आइसक्रीम और बैदराबादी बिरयानी खाना काफी पसंद है। लेकिन जब वह कोच गोपीचंद की अकादमी में आईं तो उन्हें साफतौर पर कहा गया कि यदि उन्हें अच्छी फिटनेस चाहिए तो ये सब खाना छोड़ना पड़ेगा। यही नहीं, कोच गोपीचंद ने उनका कडा टेनिंग कार्यक्रम और डाइट प्लान बनाया। सिंधु की मां बिरयानी और मैसूर पाक मिठाई काफी स्वादिष्ट बनाती हैं। लेकिन सिंधु को महीने में सिर्फ एकबार ये चीजें खाने की इजाजत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *