11 साल की मेहनत से कश्मीर के टीचर ने बना डाली सोलर कार, तकनीक के आगे Elon Musk की Tesla भी है फेल

देश में आज तकनीक का उपयोग करते हुए ऐसे भी कल बनाए जा रहे हैं क्योंकि बिना पेट्रोल और डीजल की सहायता से कम खर्चे में चल सके इसके लिए आज बहुत ही कंपनियां बाजार में मौजूद है जो इलेक्ट्रिसिटी और सोलर ऊर्जा से चलने वाली सोलर कार (Solar Car) का निर्माण कर रही है लेकिन इन्हें बनाने के लिए काफी मेहनत और तकनीक का उपयोग करना पड़ता है। लेकिन आज हम इस आर्टिकल में ऐसे टीचर के बारे में बात करने जा रहे हैं।
Bilal Ahmed Srinagar Solar Car 4जिन्होंने पढ़ाई के साथ ही अपने जीवन में कुछ बड़ा करने का ध्यान रखा था। और जिसके लिए भी बीते 11 सालों से लगातार मेहनत कर रहे थे जिसका फल भी होने आज मिल चुका है। दरअसल, कश्मीर श्रीनगर के रहने वाले मैथमेटिक्स टीचर बिलाल अहमद (Bilal Ahmed) निरंतर 11 सालों से सोलर ऊर्जा से चलने वाली कार बनाने के ऊपर रिसर्च कर रहे थे। इतना ही नहीं इस दौरान उन्होंने लगातार मेहनत करते हुए एक कार का निर्माण भी किया है जो कि इन दिनों काफी ज्यादा चर्चाओं का विषय बनी हुई है।
Bilal Ahmed Srinagar Solar Car 3
बता दें कि बिलाल अहमद कि मेहनत 11 सालों बाद रंग लाई है बता दे कि उन्होंने सोलर ऊर्जा से चलने वाली एक कार का निर्माण किया है जिसकी तस्वीरें भी सामने आई है। उनकी यह कार सोलर ऊर्जा से चलने के साथ ही कई फीचर्स और तकनीक से लैस है। इलेक्ट्रिसिटी से चलने वाली इस कार को ताकत देने के लिए बिलाल अहमद ने मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनलों का उपयोग किया है। जो इस कार को चलाने में इसे ताकत और इलेक्ट्रिसिटी मुहैया करवाती है।
Bilal Ahmed Srinagar Solar Car 2
इस कार की खासियत की बात की जाए तो या फुल्ली आटोमेटिक है इतना ही नहीं इसे काफी लेटेस्ट डिजाइन के रूप में बनाया गया है जिसके दरवाजे ऊपर की ओर खुलते हैं मानो काफी महंगी कार हो इतना ही नहीं इसके बोनट और ग्लास पर सोलर पैनल लगाई गई है जो कि काफी ज्यादा बिजली उत्पन्न करती है। जिसकी वजह से इस कार को अच्छी ताकत मिलती है। अपने अनोखे इन्वेंशन को लेकर खुद बिलाल अहमद का कहना है कि यदि उनकी किसी के द्वारा मदद की जाती तो वहीं से और पहले ही तैयार कर सकते थे।
Bilal Ahmed Srinagar Solar Car 1
इतना ही नहीं वे इतने ज्यादा कॉन्फिडेंट है कि उन्होंने अपनी तुलना एलन मस्क से की है। बिलाल अहमद मैथमेटिक्स से काफी अच्छी पिक्चर है साथ ही उन्हें टेक्नोलॉजी से जुड़े रहना काफी ज्यादा पसंद रहा है इसीलिए उन्होंने अपने जज्बात को हकीकत में बदलना सही समझा और 2009 से अपने प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं इतने ही नहीं पहले वे दिव्यांग बच्चों के लिए कार बनाने का ख्वाब देखा करते थे। लेकिन किसी के द्वारा उनको मदत ना मिलना और पैसे की तंगी के चलते उन्होंने अपना यह प्रोजेक्ट बीच में ही बंद कर दिया था।

google news

लेकिन उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और ना ही हार मानी और आज इसका जीता जागता उदाहरण उन्होंने बनाई उनकी कार है बता दें कि यहां कार दिखने में भी काफी आलीशान दिखाई देती है इतना ही नहीं इसका पावर भी देखने लायक है जिसने भी इस कार को देखा सब बिलाल अहमद की मेहनत के मुरीद हो गए हैं। आज हर तरफ बिलाल अहमद की चर्चाएं चल रही है। उनके द्वारा बनाई गई सोलर ऊर्जा से चलने वाली इस कार की काफी सराहना हो रही है।

Stay Connected

272,586FansLike
3,667FollowersFollow
18FollowersFollow
Follow Us on Google Newsspot_img

Latest Articles