फिल्म ग़दर एक प्रेम कथा का छोटा सरदार हो गया है बड़ा, 27 सालों बाद इतना बदल गए उत्कर्ष शर्मा

निर्देशक अनिल शर्मा की फिल्म “ग़दर- एक प्रेम कथा” (Gadar Ek Prem Katha) को रिलीज हुए पूरे 20 साल हो गए हैं। “गदर-एक प्रेम कथा” में बाल कलाकार का रोल अदा करने वाले निर्देशक अनिल शर्मा का बेटा उत्कर्ष अब 27 साल का हो चुका है। उत्कर्ष अत्यधिक हैंडसम दिखाई देता है और उसकी एक मूवी “जीनीयस” भी रिलीज हो चुकी। “गदर” में चरणजीत का किरदार निभा कर सुर्खियों में आए उत्कर्ष की उम्र अब 27 साल है। 22 मई 1994 को महाराष्ट्र में जन्मे उत्कर्ष शर्मा (Utkarsha Sharma) सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं।

Gadar Child Artist Utkarsha

“ग़दर- एक प्रेम कथा’ में सनी देओल और अमीषा पटेल ने अपनी मुख्य भूमिका निभाई थी। इस फिल्म के गाने भी अत्यधिक हिट हुए थे।फिल्म में जो कहानी चुनी गई थी वह भारत-पाकिस्तान पर आधारित थी। पाकिस्तान में गदर मचाते हुए सनी देओल को दिखाया गया था जो दर्शकों को खूब पसंद आया था। फिल्म में बाल कलाकार उत्कर्ष शर्मा ने सनी और अमीषा के बेटे का किरदार निभाया था। अब यह बाल कलाकार उत्कर्ष हैंडसम भी है और बड़ा भी हो गया है। फिल्म में उनका नाम चरणजीत था।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Utkarsh Sharma (@iutkarsharma)


एक रिपोर्ट के अनुसार, जब “गदर- एक प्रेम कथा” में उत्कर्ष ने रोल निभाकर लोकप्रियता पा ली तो उनके पिता अनिल शर्मा जो की हिंदी फिल्मों के निर्देशक है ने उन्हें पढ़ाई के लिए विदेश भेज दिया था। विदेश से 4 साल के बाद लौटने पर उत्कर्ष का बतौर हीरो लांच करने पर काम शुरू हुआ। 2018 में अनिल शर्मा ने उनकी लांचिंग के लिए एक मूवी बनाई जिसका नाम “जीनियस” था।

Utkarsh Sharma

इस फिल्म में मिथुन चक्रवर्ती, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, जाकिर हुसैन, आयशा, जुल्का व अन्य कलाकार नजर आए थे। इस फिल्म में उनके अपोजिट एक्ट्रेस इशिता चौहान थी।
“जीनियस” फिल्म के गाने अत्यधिक लोकप्रिय हुए। उत्कर्ष की इस डेब्यू फिल्म का प्रसार भी बहुत हुआ। हालांकि समीक्षकों ने इस फिल्म को पसंद नहीं किया। दर्शकों ने भी इस फिल्म में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखाई।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Utkarsh Sharma (@iutkarsharma)


“ग़दर- एक प्रेम कथा” का सीक्वल बनाया जाएगा। जिसमें उत्कर्ष को लेने की चर्चा थी। लेकिन, अभी तक इस फिल्म को लेकर अधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है।
एक इंटरव्यू में अनिल शर्मा ने बताया कि इस फिल्म के एक सीन में उत्कर्ष को सनी देओल अपने कंधे पर बिठाकर ट्रेन के ऊपर से एक बोगी से दूसरी बोगी तक दौड़ते हुए जाना था। यह सीन 40 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चलती ट्रेन पर शूट होना था। अनिल ने कहा कि उस समय उत्कर्ष को डर लग रहा था और उन्होंने अपनी आंखें बंद कर ली थी। जब सीन पूरा हुआ तब उन्होंने आंखें खोली तो उत्कर्ष और सनी खेल रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *