Categories: देश

CAA UP Protest: यूपी पुलिस का सख्त कदम देने जा रही है दस हजार, आखिर क्यों

नागरिकता बिल कानून को लेकर पुरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहा है इसी कड़ी में बाईट शुक्रवार को हापुड़ शहर में हुए उपद्रवी प्रदर्शन को लेकर पुलिस का खोज अभियान शुरू हो गया है। हापुड़ पुलिस ने घोषड़ा की है की जो भी व्यक्ति उपद्रवियों की पहचान कराएगा उसकी पहचान गुप्त राखी जाएगी और इनाम रूप में दस हजार रुपये दिए जायेंगे। पुलिस प्राप्त सूचनाओं के आधार पर उपद्रवियों की पहचान करेगी साथ ही उनके फोटो शर की दीवारों पर लगाकर पहचान करेगी। शुक्रवार को उपद्रवियों द्वारा नागरिकता बिल विरोध में शहर के हालत बिगड़ दिए गए है। विरोध प्रदर्शन के उपद्रवियों की पहचान शुरू कर दी गयी है। हलाकि प्रदर्शन करियो ने अपनी पहचान छुपाने के लिए चेहरे पर नकाब लगाए हुए थे। प्रदर्शनकारियों में से कुछ ने आंदोलन को कवर कर रहे मीडियकर्मियों के कैमेरे और मोबाइल छीनने का भी प्रयास किया था। फोटो खींचने और वीडियो बनाने पर मारपीट की धमकी भी दी थी। हालांकि, बड़ी संख्या में उपद्रवी कैमरों में कैद हो गए।

अपर पुलिस अधीक्षक ने जानकारी दी की उपद्रवियों की पहचान के लिए हम वीडियो और फोटो का सहारा ले रहे है। घटना स्थल को जोड़ने वाली सड़को तथा दुकानों के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी जाँच रहे है। उन्होंने जानकारी दी की उपद्रवियों की पहचान बताने के लिए हम जनता से भी मदद की अपील कर रहे है और इसी प्रक्रिया में हमने पहचान करने और जानकारी देने वाले व्यक्तियों के लिए ईनाम की घोषड़ा की है। हम जनता को विश्वास दिलाते है की उपद्रवियों की गिलफ्तारी जल्दी की जाएगी।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शनकारियों के उग्र रूप से शहर को छावनी में तब्दील करना पड़ा। उपद्रवियों की दहशत से शहर वासियों ने खौफ के साये में रात गुजारी। शहरवासियो की सुरक्षा के लिए पुलिस अधिकारी पूरी रात गश्त करते रहे। शहर के सभी अतिसंवेदनशील, संवेदनशील इलाकों और धार्मिक स्थलों पर पीएसी के जवान तैनात रहे। शहर के दूसरे सभी क्षेत्रों में पुलिस जवानो की तैनाती रही।

Leave a Comment