26.1 C
India
Monday, October 18, 2021

घर के पीछे हो रही खुदाई में निकला दुनिया का सबसे बेशकीमती पत्थर, कीमत जानकार रह जायेंगे दंग

सोचिये जिसे आप महज एक पत्थर समझे और वो दुनिया का सबसे बेशकीमती नीलम पत्थर निकले जिसकी कीमत करोड़ो में हो तो आप क्या करेंगे? कुछ ऐसा ही हुआ है श्रीलंका (Sri Lanka) में एक व्यक्ति के घर में खुदाई (Excavate) करते वक़्त, जब उसके घर के पीछे कुआँ (Well) खोदा जा रहा था तब इस व्यक्ति के हाथ में एक बड़ा खज़ाना लग गया।

- Advertisement -

Serendipity Sapphire

श्रीलंका ने दावा किया है की वह के एक परिवार के पास एक खज़ाना लगा है, जो दुनिया का सबसे बड़ा और महंगा नीलम पत्थर है। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में इसकी कीमत करीब साढ़े सात अरब (7,43,78,60,769.60) रुपये बताई गयी है, श्रीलंका के रत्नपुरा (Ratnapura) से ये मामला सामने आया है। इसके एक्सपर्ट्स ने इस पत्थर को किस्मत से मिले नीलम की वजह से सेरेंडिपिटी सफायर (Serendipity Sapphire) नाम दिया है। इस नीलम पत्थर का वजन 500 किलो से भी ज्यादा बताया जा रहा है और 25 लाख कैरेट है इसकी शुद्धता।

Serendipity Sapphire Sri Lanka

कहा जाता है की रत्नपुरा एरिया में रत्न सबसे ज्यादा मात्रा में होते है इसी वजह से इसका नाम रत्नपुरा पड़ा है। इस पत्थर के मालिक डॉ. गमागे (Dr Gamage) के मुताबिक उनके यहाँ जो व्यक्ति कुएं की खुदाई कर रहा था उसे खुदाई के दौरान इस पत्थर के होने की जानकारी मिली थी। जिसके बाद मशक्कत से इसे निकलने में सफलता हासिल हुयी थी। डॉक्टर ने बताया था की जब इसकी सफाई की जा रही थी तब इससे कुछ टुकड़े गिरे थे जिसे अध्ययन करने के बाद पता चला की ये बेशक़ीमती नीलम पत्थर है।

Serendipity Sapphire

अथॉरिटीज का कहना है की इस पत्थर को साफ़ करने में और इसपर जो गंदगी जमा है उसे हटाने में एक साल का वक़्त लगेगा, जिसके बाद ही इसका विश्लेषण संभव हो पायेगा। श्रीलंका को दुनिया का सबसे बड़ा कीमती पत्थरो के निर्यातक देशो की सूची में गिना जाता है। दुनिया में सबसे ज्यादा कीमती पत्थर श्रीलंका से ही निर्यात होते है। पिछले साल श्रीलंका ने हीरो की कटाई (Diamond Cutting) और इन पत्थरो के निर्यात से 50 करोड़ डॉलर कमाए थे।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!