Categories: बॉलीवुड

अपनी आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ से जिंदगी को जीना सिखा गये सुशांत सिंह राजपूत

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत आज हम सब लोगों के बीच नहीं हैं लेकिन अपने परिवार और प्रशंसकों के दिल में वो आज भी जिंदा है। सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी एक्टिंग और जिंदादिली से सभी के दिलों में एक विशेष जगह बना ली थी। सुशांत के लिए 24 जुलाई का दिन बहुत ही खास था हालांकि वह इस दिन हम लोगों के बीच में नहीं थे। यह वह दिन था जिस दिन सुशांत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा को ओटीटी हॉटस्टार पर प्रदर्शित किया गया। इस फिल्म को जब टीटी Hotsar पर प्रदर्शित किया गया तो इसे बिना कोई शुल्क लिए फ्री में दिखाया गया। दिल बेचारा के निर्देशक और निर्माताओं ने यह फैसला लिया था कि फिल्म को बिना कोई शुल्क लिए दिखाकर हम सुशांत सिंह को श्रद्धांजलि देंगे।

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा को रिकॉर्ड तोड़ लोगो ने देखा। सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म उन लोगों को करारा जवाब थी जिन लोगों ने काबिलियत की बजाए भाई-भतीजावाद को बढ़ावा दिया। ऐसे लोग जो चापलूसी में विश्वास रखते हैं या किसी बड़े स्टार के बेटे-बेटी, भाई या रिश्तेदार हैं उनके लिए सुशांत की फिल्म बहुत बड़ा सबक थी।

दिल बेचारा फिल्म में सुशांत के एक्सप्रेशन और मुस्कुराते चेहरे को देखकर एक बार फिर लोगों की आंखें भर आई थी। दिल बेचारा फिल्म की अवधि 1 घंटा 40 मिनट थी लेकिन हर पल सुशांत ने अपनी मुस्कुराहट से सभी को बार-बार हंसने के लिए मजबूर किया। फिल्म देखने के बाद सुशांत के लिए लोगों का प्यार और बड़ा और उनको न्याय दिलाने की मांग फिर से तेज हो गई थी। फिल्म के अंतिम 15 मिनट इतने भावुक थे कि हर कोई भावुक हो गया। दिल बेचारा फिल्म The Fault In Our Stars का रूपांतरण है जिसमें कुछ बदलाव करके दिखाया गया है।

दर्शको से मिली तारीफ

फिल्म दिल बेचारा में लोगों ने सुशांत की एक्टिंग को बहुत करीब से देखा। लोगों का कहना था कि सुशांत की फिल्म दिल बेचारा को Rating देना हमारे बस की बात ही नहीं है। फिल्म दिल बेचारा ने सभी दर्शकों से तारीफ बटोरी जिसमें शानदार कलाकारी, कहानी, डायरेक्शन, स्क्रीनप्ले और सबसे बढ़कर सुशांत सिंह राजपूत की इमोशन से भरी हुई एक्टिंग थी। लोगों ने कहा कि हम इस काबिल ही नहीं है कि इस फिल्म को स्टार देकर इसका मूल्यांकन कर सकें।

सुशांत सिंह राजपूत ने अपने छोटे-छोटे डायलॉग से फिल्म को भावुकता से भर दिया था। जिन लोगों ने भी यह फिल्म देखी वो कभी सुशांत की हंसी और उनकी मासूमियत भूल नहीं पाएंगे। आपको बता दें सुशांत सिंह राजपूत ने बिना टेक लिए फिल्म का टाइटल ट्रैक रिकॉर्ड किया था। बॉलीवुड का कोई भी दिग्गज अभिनेता या अभिनेत्री आज तक ऐसा नहीं कर पाया है इसलिए सुशांत सिंह राजपूत का जाना भारतीय सिनेमा के लिए बहुत बड़ी हानि है।

Leave a Comment