मौज-मस्ती और छुट्टी के लिए वायरल किया था DM का झूठा आदेश पत्र, माफी के लिए लोगों ने लगाई गुहार

नोएडा स्कूल के कक्षा 12वीं के 2 छात्रों को हिरासत में लिया गया है। उनका आरोप है कि उन्होंने जिलाधिकारी बी एन सिंह के नाम से एक फेक न्यूज़ का लेटर बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया। इसके मुताबिक 23 और 24 दिसंबर को स्कूल और कॉलेज और यूनिवर्सिटी बंद रहेगी। हालांकि कुछ देर बाद आरोपी बच्चों के सपोर्ट में स्कूल के बच्चे आ गए। उन्होंने DM ऑफिस के सामने आकर कान पकड़कर माफी मांगी।

DM का फर्जी हस्ताक्षर कर छुट्टी का लेटर बनाया। DM का फर्जी ट्विटर अकाउंट बनाकर रविवार को एक लेटर वायरल किया गया। इस लेटर में कहा गया कि सोमवार और मंगलवार को स्कूल बंद रहेंगे। सिटी मजिस्ट्रेट शैलेंद्र मिश्रा ने धरना दे रहे छात्रों से मुलाकात की। उन्होंने भरोसा दिलाया कि दोनों छात्रों को छोड़ दिया जाएगा। दोस्तों के लिए कान पकड़कर छात्रों ने माफी मांगी।

नोएडा जिलाधिकारी के आफिस के बाहर बच्चों ने कान पकड़कर अपने साथियों की गलती को माफ करने की मांग की। दोनों बच्चों ने DM का फर्जी हस्ताक्षर का छुट्टी का फर्जी आदेश जारी कर दिया था। जिसके बाद नोएडा पुलिस ने दोनों छात्रों को पकड़ कर जेल भेज दिया गया था। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि नोएडा के सेक्टर-20 स्थित राजकीय इंटर कॉलेज के दो छात्रों ने छुट्टी के लिए फर्जीवाड़ा किया है। जब DM ने वायरल मैसेज देखा तो उन्हें सामने आकर सफाई देनी पड़ी कि उन्होंने ऐसे किसी भी लेटर पर हस्ताक्षर नहीं किया है। इसके बाद पता चला कि यह शरारत स्कूल के 2 छात्रों ने की है। वह नोएडा के सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं।

Leave a Comment