हैदराबाद, राजस्थान के बाद गोवा में लहराया भगवा, जिला पंचायत चुनाव में BJP को सफलता

भारतीय जनता पार्टी द्वारा पिछले कुछ चुनाव में बेहतर प्रदर्शन किया है। जनता लगातार भारतीय जनता पार्टी में विश्वास दिखा रही है। भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान और हैदराबाद के चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन किया और अब गोवा के पंचायत चुनाव में अजय बढ़त कर ली है। बीते दिनों गोवा में हुए पंचायत चुनाव के परिणाम आज सामने आ जाएंगे जिसके लिए 15 केंद्र निश्चित किए गए थे जहां पर मतगणना जारी है।

जीत की और बीजेपी

बीते दिनों गोवा के 48 जिला पंचायत निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव संपन्न हुए थे जिसमें 58.43% मतदान हुआ। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जानकारी दी गई कि 56.82 % मतदान उत्तरी गोवा में हुआ और जबकि 55% मतदान दक्षिण गोवा में हुआ। मतगणना प्रारंभ होते ही कुछ समय में बीजेपी ने अपराजेय बढ़त बना ली है और भाजपा ने 13 सीटों पर जीत दर्ज की है। 21 सीटों में से कांग्रेस मात्र दो ही सीट अपने पक्ष में हासिल कर पाई है, जबकि 5 सीटें निर्दलीयों के खाते में गई है। 6 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी आगे चल रही है, वही आम आदमी पार्टी एक भी सीट अपने पक्ष में नहीं ला पाई है।

मतदान करने नहीं आये मतदाता

गोवा के जिला पंचायत निर्वाचन क्षेत्र में कुल 4 लाख से अधिक मतदाता थे जिनमें पुरुषों की संख्या 221972 और महिलाओं की संख्या 221972 है। निर्वाचन क्षेत्रों में 8 लाख लोग मतदान करने के योग्य थे, जिसमें क्रमशः पुरुष 85222 और महिला 406592 थे। 48 निर्वाचन क्षेत्रों से 200 उम्मीदवारों का फैसला होना है, जिस पर आज नतीजे घोषित हो जाएंगे। इस वर्ष जिला पंचायत के चुनाव मार्च महीने में होने वाले थे, किंतु कोरोना लॉकडाउन के कारण यह चुनाव निरस्त कर आगे बढ़ा दिए गए थे। कोरोना महामारी के कारण काफी लोग मतदान करने नहीं आए।

भाजपा ने 13 सीटों पर जीत दर्ज की है लेकिन कुछ क्षेत्रों में उसे हार का सामना भी करना पड़ा। वर्ष 2015 में संपन्न हुए जिला पंचायत चुनाव के परिणाम के मुकाबले 2020 के चुनाव परिणाम भाजपा के लिए सुधार के संकेत दिखा रहे हैं। वर्ष 2015 में भाजपा मात्र 18 सीटों पर ही जीत दर्ज कर पाई थी, वही 25 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जित दर्ज की थी। बीते दिनों संपन्न हुए हैदराबाद के नगर निगम और राजस्थान के पंचायत चुनाव में बीजेपी का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा और परिणाम उनके पक्ष में आए। हैदराबाद के पिछले नगर निगम चुनाव में बीजेपी तीसरे नंबर की पार्टी थी वहीं इस बार बीजेपी ने ओवैसी की पार्टी को कड़ी टक्कर दी। हालांकि बीजेपी दूसरी बड़ी पार्टी के रूप में जीत दर्ज कर पाई, वही ओवैसी की पार्टी जो कि दूसरे नंबर पर थी इस समय तीसरे नंबर पर आ गई।

हैदराबाद और राजस्थान के परिणाम सुखद

हैदराबाद में नगर निगम चुनाव 150 वोटों पर हुए थे जिसमें से टीआरएस ने 55 बीजेपी ने 48 और एआईएमआईएम ने 44 सीटों पर जीत दर्ज की थी। अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही कांग्रेस पार्टी को यहां पर मात्र 2 सीटों से समझौता करना पड़ा। राजस्थान के पंचायत समिति के चुनाव में बीजेपी ने कांग्रेस के उन नेताओं को हार का चेहरा दिखाया जो जीत के प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। बीजेपी की इस जीत से गहलोत सरकार पर फिर से संकट के बादल दिखने लगे हैं। कांग्रेस की सरकार होने के बावजूद राजस्थान में बीजेपी की पकड़ मजबूत हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *