उद्धव ठाकरे को लेकर FB पर पोस्ट करना पड़ा महंगा, शिवसैनिकों ने की पिटाई, कराया मुंडन

उद्धव ठाकरे ने जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों पर पुलिस के लाठीचार्ज की तुलना 1919 में जलियां वाले बाग से की थी। ऐसे में फार्मासिटिकल फर्म में काम करने वाले हीरामणि तिवारी ने उद्धव ठाकरे पर कमेंट किया था। इसके 2 दिन बाद 22 दिसंबर को हीरामणि पर हमला हो गया। शिवसेना कार्यकर्ता ने वडाला में एक शख्स को जमकर पीटा और उसका सिर भी मूंड दिया। पीड़ित व्यक्ति ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि जिन लोगों ने उनके साथ मारपीट की है। मैं उनको अच्छी तरह से जानता हूं। उनका कहना है कि सभी शिवसैनिकों ने मिलकर उनको पीटा।

उन्होंने बताया कि दो प्रमुख ने मिलकर उनकी पिटाई कर दी। बताया जा रहा है कि पीड़ित ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर उद्धव ठाकरे के खिलाफ टिप्पणी की थी। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। इसमें ही हीरामणि का सिर मुंडने से पहले उनसे मारपीट की जा रही है। जुगलर ने सोशल मीडिया पर शिवसेना के खिलाफ लिखने पर हीरामणि को भुगतने की चेतावनी दी। इस वीडियो मैं वह कह रहा है कि हीरामणी को सबक सिखा दिया जाएगा।अगर कोई ठाकरे को अपमानित करता है तो उसके साथ भी शिवसेना ऐसा ही बर्ताव करेंगी।

पीड़ित ने बताया, “शनिवार दोपहर को करीब 12:30 बजे शिवसेना के 2 कार्यकर्ता मेरे घर में घुस गए। उन्होंने बताया कि वडाला के शांति नगर एरिया के शाखा प्रमुख समाधान जुगदर मुझसे मिलना चाहते हैं। दोनों कार्यकर्ता मुझे जुगदर के पास ले गए जो एक मंदिर के बाहर इलेक्ट्रिक शेवर लेकर मेरा इंतजार कर रहा था।” हीरामणि ने पुलिस को बताया, “मैंने 20 दिसंबर को पोस्ट किया था। इसके बाद वडाला में रहने वाले मेरे दोस्त प्रकाश ने पोस्ट करने का कारण पूछा। प्रकाश शिवसेना शाखा प्रमुख है। ऐसे में मैंने तुरंत उस से माफी मांगी और बताया कि यह पोस्ट गलती से हो गई है”।

Leave a Comment