23.9 C
India
Wednesday, September 22, 2021

मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करने वाली किताब से महाराष्ट्र में बड़ा राजनीतिक तूफान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करने वाली किताब “आज के शिवाजी-नरेंद्र मोदी” को लेकर महाराष्ट्र में सियासत गरमा गई है। शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने किताब पर नाराजगी जताते हुए भाजपा से जवाब मांगा है। सत्ताधारी महाविकास अगाड़ी में शामिल तीनों दलों ने भाजपा शिवाजी महाराज के अपमान का आरोप लगाया है। दूसरी तरफ भाजपा नेता जय भगवान गोयल लिखित इस किताब पर प्रतिबंध लगाने की मांग की जा रही है। कांग्रेस नेताओं की ओर से गोयल के खिलाफ नागपुर और सोलापुर में पुलिस से शिकायत की गई है। महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता अतुल लोंधे ने गोयल के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

- Advertisement -

जुबान संभालें रावत
शिवाजी के वंशज संभाजी राजे ने शिवसेना प्रवक्ता राउत को जुबान संभाल कर बोलने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि जो मन में आया वही नहीं बोलना चाहिए। छत्रपति को लेकर अनाप-शनाप बयान बाजी राज्य की जनता बर्दाश्त नहीं करेगी। भाजपा नेता राजे किताब पर प्रतिबंध लगाने की मांग पहले ही कर चुके हैं। रविवार को ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने उन्होंने से मुलाकात की थी।

जाणता राजा पर चुप क्यों रहे
शिवसेना, कांग्रेस, एनपीसी को भाजपा ने जवाब दिया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने पूछा कि जब शरद पवार को जाणता राजा बताया गया, तब इन दलों के नेता चुप क्यों रहे। शरद पवार जाणता राजा हो सकते हैं तो मोदी की तुलना क्यों नहीं की जा सकती।

छत्रपति हमारे भगवान
शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा छत्रपति शिवाजी महाराज महाराष्ट्र के ही नहीं पूरे देश के लिए देव हैं। किसी भी व्यक्ति से उनकी तुलना ठीक नहीं है। नरेंद्र मोदी, नरेंद्र मोदी है। लेकिन छत्रपति सबसे बड़े हैं। एनपीसी के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल ने भी इसकी निंदा की है।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!