Categories: बॉलीवुड

क्यूँ भारत में ज्यादातर फिल्में शुक्रवार को ही रिलीज होती हैं, इस बात से आज भी है सभी अंजान !!

आज भारत या फिर पूरे विश्व की बात करें तो आपको सिनेमा से जुड़े लोग हर उम्र के मिल जाएंगे। भारत में सिनेमा का चलन बहुत पुराना है। भारतीय सिनेमा में कई कलाकार ऐसे भी मौजूद है जिन्होंने बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपनी अदाकारी से प्रभावित किया है। बॉलीवुड इंडस्ट्री में अभी तक तो फिल्म शुक्रवार को ही रिलीज होती आई है। लेकिन आज भी बहुत लोग इस बात से अंजान है कि बॉलीवुड की फिल्म शुक्रवार को ही क्यों रिलीज की जाती है।

Image Source: Google

इस कारण शुक्रवार को माना गया शुभ

तो आइए आज हम बताते हैं इससे जुड़ी कुछ खास बातें दरअसल, बॉलीवुड में फिल्म शुक्रवार को रिलीज होने का पहला कारण यह भी है कि भारत में रिजील होने वाली फ़िल्म मुगले आज़म 5 अगस्त 1960 को शुक्रवार को ही रिलीज़ की गई थी। जो उस समय में खूब पसंद की गई थी। और फिल्म सुपरहिट साबित हुई थी। तो एक तौर पर शुक्रवार को अच्छा दिन माना जाता है। दूसरा कारण यह भी है कि भारत में बहुत सी नौकरी ऐसी भी है जहां शनिवार और रविवार दो दिन की छुट्टियां मिलती है।

Image Source: Google

मुंबई से हुई थी शुरुआत

इसके चलते सिनेमाघर में 3 दिनों तक फिल्म देखने वालों की संख्या अधिक होती है और इस दौरान सभी वर्ग के लोग आसानी से अपनी छुट्टियां भी एन्जॉय कर पाते हैं। वहीं उस जमाने में लोगों के घर कलर्स टीवी नहीं होते थे। जिसके कारण सिनेमा घर में लोग अधिक मात्रा में आया करते थे। अक्सर इस दिन मुंबई में सारी कंपनी हाफ डे कर दिया करती थी, और यह फिल्मों को रिलीज करने में और उन को हिट करने में काफी मदद करती थी ।

Image Source: Google

वहीं इसके अलावा शनिवार और रविवार को भारत में ज्यादातर ऑफिस बंद रहते हैं। जिसके चलते ज्यादा लोग इन दिनों में फिल्म देखना पसंद करते हैं। शुक्रवार को फिल्म को रिलीज करने के बाद सिनेमाघरों का कारोबार भी अच्छा होता है। इस वजह से भी फिल्म को शुक्रवार को रिलीज करने का तय किया गया है।

Leave a Comment