Categories: देश

Owaisi के किले में मोहन भागवत की ललकार, हिंदू और हिंंदुत्व पर किया आरपार !

“विजय संकल्प सभा” को संबोधित करते हुए संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि,”हम धर्म विजय चाहते हैं। देश की विजय के लिए संकल्प हो रहा है”। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत हैदराबाद शरूर नगर स्टेडियम में “विजय संकल्प सभा” में मुख्य अतिथि थे। इस सभा में हिस्सा लेने के लिए करीब 20 हजार कार्यकर्ता अपनी गणवेश (संघ की यूनिफॉर्म) में लाठी लेकर मार्च करने पहुंचे थे।

संघ प्रमुख ने मीडिया को कहा कि भारत में पैदा हुआ हर एक व्यक्ति हिंदू है। उन्होंने कहा कि आचार विचार अलग हो सकते हैं, मगर सब भारत माता की संतान है। कुछ लोग डरा कर समाज में ऊपर आना चाहते हैं। ऐसे लोग समाज के लिए खतरा है। कुछ लोग राज्य, वैभव और मोक्ष को धर्म की विजय मानते हैं। हमारे देश की नागरिकता ही अहम है।

उन्होंने आगे कहा कि सभी देवी देवताओं को भूलकर सिर्फ भारत माता की पूजा करो। संघ प्रमुख ने कहा कि हिंदू मुस्लिम के आपस की लड़ाई में दोनों खत्म हो जाएंगे। यह अंग्रेजों की सोच थी, मगर रविंद्र नाथ टैगोर ने भी कहा था कि इस लड़ाई से ही सही एकता सामने आएगी और हिंदू नायक बनेगा। जिस दिन समाज बदलेगा, उस दिन देश बदलेगा।

Leave a Comment