Categories: देश

हैदराबाद केस: मोहन भागवत की लोगों से अपील कहा अपने घर से सिखाएं महिलाओं का सम्मान

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने हैदराबाद गैंगरेप का जिक्र किए बगैर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बड़ी बात कही है। दिल्ली के लाल किला मैदान में गीता प्रेरणा महोत्सव में मोहन भागवत ने कहा कि सरकार पर सब कुछ छोड़ने से काम नहीं चलेगा बल्कि बच्चों को घरों से शिक्षित करना होगा कि महिलाओं को देखने का नजरिया ठीक हो। उन्होंने कहा कि अपने घर से बच्चों को महिला का सम्मान करना सिखाया जाना चाहिए। मोहन भागवत ने कहा कि पुरुषों को इस बारे में शिक्षित किए जाने की जरूरत है कि महिलाओं से कैसे पेश आना है।

गीता महोत्सव कार्यक्रम में भागवत ने कहा, “सरकार कानून बना चुकी है। कानून का पालन ठीक से नहीं हो रहा है। शासन प्रशासन की ढिलाई यह सब अब नहीं चल सकता। लेकिन शासन-प्रशासन पर ही सब छोड़कर नहीं चलेगा जो अपराध करने वाले हैं, उनकी भी माता बहनें हैं उनको यह किसी ने सिखाया नहीं। अपने घर से प्रारंभ करना है, पुरुषों की मातृशक्ति की और महिलाओं की और देखने की दृष्टि शुद्ध होनी चाहिए। यही इन सब बातों को बंद करेगा।” बता दें कि रविवार को दिल्ली के लाल किला पर गीता प्रेरणा महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी भी संघ प्रमुख भागवत के साथ नजर आए।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व राज्यसभा सदस्य जनार्दन द्विवेदी ने रविवार को हिंदू धर्म के पवित्र ग्रंथ गीता पर आयोजित एक कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत और साध्वी ऋतंभरा के साथ मंच साझा किया। कांग्रेस के पूर्व महासचिव द्विवेदी, भागवत, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, राम मंदिर आंदोलन से जुड़ी साध्वी ऋतंभरा और अन्य आध्यात्मिक नेताओं के साथ पहली पंक्ति में बैठे थे। गौरतलब है कि हैदराबाद के पास साइबराबाद में महिला डॉक्टर से हैवानियत के खिलाफ देशभर मेंआक्रोश का माहौल है। सड़कों पर उतरकर लोग महिला सुरक्षा पर सवाल कर रहे हैं। पुलिस जांच में कई खुलासे हुए। पुलिस के अनुसार 27 नवंबर को ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों ने डॉक्टर को अगवा किया।

आरोपी पीड़िता को सुनसान जगह पर ले गए और उसे जबरन शराब पिलाई। गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। एक आरोपी ने मुंह और नाक दबाकर पीड़िता की जान ली। शव के पास ही पीड़िता का फोन, घड़ी और गाड़ी की चाबी सब कुछ छिपा दिया।इस वारदात से पूरा देश गुस्से से भर गया। लोग आरोपित को कठोर से कठोर सजा देने की मांग कर रहे हैं।

Leave a Comment