31 C
Mumbai
Tuesday, February 7, 2023
spot_img

मिलिए असल जिंदगी के कुंभकरण से जो लगातार सोते है 25 दिनों तक, साल में 300 दिन सोने का रिकॉर्ड

त्रेतायुग में रामायण तो सभी ने देखी है इसमें रावण का भाई होता है कुंभकरण जिसे निंद्रासन का वरदान मिला था । ऐसा वरदान मिलने के बाद वहां 6 महीने तक सोता फिर एक दिन के लिए उठता था फिर 6 महीने की गहरी नींद में सो जाता था। ये तो रही त्रेतायुग के रामायण की बात जिसमें ऐसा गठित हुआ है,लेकिन ऐसा कलयुगी में भी इसी तरह की सत्य घटना हुई है जो राजस्थान के नागौर जिले की है। जी हां हम आपको आज सत्य पर आधारित एक कहानी के बारे में बताने जा रहे है। इसे पढ़कर आप अपनी आंखों पर विश्वास नहीं करेंगे ,लेकिन अद्भुत और आलौकिक घटना सामने आई है राजस्थान जिले के नागौर जिले से इस घटना को जिसने भी सुना सब देखकर हैरान रह गए और उन्हें त्रेतायुग की रामायण की याद आ गई।

New WAP

pukharam rajasthan nagaur

दरअसल राजस्थान के नागौर जिले में एक घटना हुई है जो सत्य पर आधारित है, जहां एक व्यक्ति ऐसा है जो आम व्यक्ति से बिल्कुल अलग है। आम व्यक्ति करीब 5 से 6 घन्टे की नींद सोता है, लेकिन जिस व्यक्ति के बारे में हम बताने जा रहे है वो साल में 300 दिन सोता है। जिस तरह से कुंभकरण को उठाने सैनिकों द्वारा संघर्ष करते थे उसी तरह इस व्यक्ति को भी उठाने के लिए बहुत मुश्किल आती है। कुंभकरण नींद में ही खाना खाता था इसी तरह ये व्यक्ति भी नींद में खाना खा जाता है। अब ग्रामीण लोग इसे वर्तमान का कुंभकरण कहते है।

New WAP

pukharam rajasthan nagaur 1

वहीं जिस व्यक्ति के बारे में हम आपको बताने जा रहे है वो है राजस्थान (Rajasthan) के नागौर (Nagaur) जिले के भादवा गांव के रहने वाले पुरखाराम । जिनकी उम्र करीब 45 वर्ष है, लेकिन इनको एक गंभीर बीमारी है जिसकी वजह से इन्हें खूब नींद आती है और इनके सोने की वजह से परिवार वाले खासे परेशान है।

पुरखाराम (purkharam) अपने बारे में बताते है की वो अगर सो जाए तो लंबे समय तक नही उठते है। सूत्रों की माने तो पुरखाराम पहले करीब 6 से 7 दिनों तक सोते थे, लेकिन धीरे-धीरे इनकी सोने की अवधी बढ़ती गई। जब ये ज्यादा सोने लगे तो इनके परिवार वालों ने डॉक्टर से सलाह ली लेकिन डॉक्टर भी इनकी बीमारी को समझ नहीं पाए। तब लेकर अभी तक धीरे-धीरे उनके सोने की अवधी बढ़ती गई।

pukharam rajasthan nagaur 3

वहीं अगर पुरखाराम के परिवार में उनकी बूढ़ी मां और तीन बच्चे है जिनमें एक लड़का और 2 लड़कियां है । पुरखाराम की पत्नी ने जानकारी देते हुए बताया कि उनकी एक दुकान भी है लेकिन उनके पति नींद की बीमारी से परेशान होने की वजह से खोल नहीं पाते है। जैसे- तैसे खेत में अनाज उगाकर गुजारा कर लेते है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पुरखाराम को हायपरसोम्निया (Axis hypersomnia) बीमारी है । इस बीमारी के बाद व्यक्ति को बहुत नींद आती है । वहीं डॉक्टरों का कहना है कि पुरखाराम पूरी तरह ठीक भी हो जायेगा उसके लिए गोली दवाई टाइम पर लेना होगी।

Stay Connected

272,586FansLike
3,667FollowersFollow
20FollowersFollow
Follow Us on Google Newsspot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!