दिल्ली सा,जिश के मास्टरमाइंड का हुआ खु'लासा, जाँच एजेंसी को मिली बड़ी सफलता

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत में मौजूद होने के बावजूद दिल्ली में साजिश रची गई। अब उसका खुलासा हो गया है। आपको बता दें कि जिस समय दिल्ली में बवाल हो रहा था ठीक उसी समय अलीगढ़ में भी बवाल हो रहा था। ऐसी खबर आ रही है कि जिससे दिल्ली और अलीगढ़ के तार जुड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं। आपको बता दें कि इस बार हुए बवाल में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया और भीम आर्मी के तार जुड़ने की खबर सामने आ रही है।

फिलहाल दिल्ली में माहौल शांत है। पिछले 3 दिनों से दिल्ली में जिस तरह से उत्पात मचाया गया। जिस तरह से दिल्ली को ज,लाने का काम किया गया। अब इसको लेकर बेहद बड़ा खुलासा हुआ है। इसका मास्टरमाइंड सामने आ गया है। कौन था इसका मास्टर माइंड? बताएंगे आपको कैसे पूरी साजिश रची गई? किस तरह से दिल्ली को ज,लाने का काम किया गया। दिल्ली से जो इस समय खबर आ रही है! आपको बता दें कि दिल्ली में करीब 21 लोगों की मौ,त हो चुकी है और 250 से ज्यादा लोग इस समय घायल हैं। इसके साथ-साथ 56 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

उत्तर प्रदेश राज्य खुफिया विभाग में कुछ प्रमुख मोबाइल नंबर की डिटेल निकाली है और इसी के आधार पर भीम आर्मी और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के बारे में खुलासा किया गया है। दिल्ली में हुए बवाल के तार अलीगढ़ से जोड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं। यह कहना है उत्तर प्रदेश राज्य खुफिया विभाग का। इस रिपोर्ट में कहा गया की अलीगढ़ के अंबेडकर पार्क में विरोध करने वाले भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने नगर मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपने के बाद पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के अधिकारियों से मुलाकात की थी।

इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि अलीगढ़ विश्वविद्यालय के छात्रों ने भीम पार्टी और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के नेताओं से बात की थी। इस रिपोर्ट में कहा गया कि भीम आर्मी का प्रतिनिधिमंडल शहर के बीच एक धार्मिक स्थान पर पहुंचा। जहां उन्होंने पोस्टर हटाने शुरू कर दिए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

इस सब साजिश के पीछे सीधे-सीधे भीम आर्मी का नाम रहा है। इतना ही नहीं बल्कि दिसंबर में नागरिकता कानून के खिलाफ हुए विरोध को भड़काने का काम भी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) ने किया था। जिसके चलते योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को बैन कर दिया। दोनों का नाम सामने आ रहा है। दिसंबर में हुए बवाल में भी पीएफआई (PFI) का नाम सामने आया था और फिलहाल दिल्ली में हुए बवाल में भी पीएफआई का नाम सामने आ रहा है।

Source : sacchikhabar

Leave a Comment