21.6 C
India
Wednesday, October 20, 2021

जाने कौन है राहुल-सुलोचना जो हाथों में तिरंगा लिए रतन टाटा से मिलने MP से मुंबई जा रहे हैं पैदल

कहते हैं जुनून जब सर पर सवार रहता है तो कोई बाधा हमारे लक्ष्य को रोक नहीं सकती फिर चाहे वह कठिन रास्ते हो या किसी से मिलने की इच्छा हो ऐसा ही एक अद्भुत मामला सामने आ रहा है जिसमें एक दंपत्ति उद्योगपति रतन टाटा से मिलने की चाह में पैदल यात्रा कर रहा है यह यात्रा कठिन और विस्तृत जरूर है लेकिन दंपत्ति का अटल लक्ष्य उनके इस कठिन रास्ते को धीरे धीरे कम और सरल किए जा रहा है हमारे जीवन में कई दफा परिस्थितियां बिगड़ती हैं।

- Advertisement -

लेकिन कहते हैं अगर लक्ष्य सही हो सटीक हो तो बिगड़ी हुई परिस्थितियां भी हमें अपने लक्ष्य से भटका नहीं सकती और यह मध्य प्रदेश के राहुल और सुलोचना ने सिद्ध करके लोगों के सामने उदाहरण बन गए हैं सोशल मीडिया पर दंपत्ति के इस लक्ष्य को देख हर कोई आश्चर्य में है और दंपत्ति प्रशंसा का पात्र बन रहे।

आज हम आपको बता रहे हैं राहुल और सुलोचना के बारे में यह अद्भुत दंपत्ति उद्योगपति रतन टाटा से मिलने की चाह में मध्य प्रदेश से मुंबई की ओर पैदल यात्रा कर रहा हैं यह दंपत्ति राहुल पटेल जो पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर है और पत्नी सुलोचना जो फैशन डिज़ाइनर है दोनों ने ही अपनी नौकरी को छोड़ निकल पड़े अपने लक्ष्य को पूरा करने की और, दंपत्ति मध्यप्रदेश के सतना जिले के मेहर इलाके के लटा गांव से है दंपत्ति उद्योगपति रतन टाटा के कार्य और बीते सालों में उनके द्वारा किए गए सभी कार्यों से इतना प्रभावित हुआ कि उनसे मिलने की इच्छा मन में जागृत हुई जिसके बाद से दंपत्ति ने ठान लिया कि वह अब रतन टाटा से मिलने में देरी नहीं करेंगे और निकल पड़े अपनी इच्छा पूर्ति के लिए पदयात्रा पर।

राहुल और सुलोचना 29 अगस्त को अपने घर से इस यात्रा के लिए निकले साथ में रतन टाटा की तस्वीर और तिरंगा लहराते हुए रोजाना 30 किलोमीटर की पद यात्रा पूरी करते हैं दंपत्ति के लिए जरूरी नहीं है कि रात में ठहरने के लिए कोई होटल की व्यवस्था ही हो ,उन्हें जहां सोने की जगह मिलती है दंपत्ति अपने वही व्यवस्था कर लेता है और रात कट जाती है अगले दिन फिर 30 किलोमीटर का टारगेट लेकर पद यात्रा पर निकल जाते हैं। सोशल मीडिया पर आए दिन नए-नए वीडियोज फोटोज़ अपलोड होते ही रहते हैं लेकिन यह फोटोज़ किसी को भी उत्साह से भरने के लिए काफी है लक्ष्य प्राप्ति का मार्ग चाहे कठिन हो लेकिन लक्ष्य तक पहुंचने के लिए सिर्फ सही सोच और जोश की जरूरत है जो इस दंपत्ति में भरपूर है।

राहुल और सुलोचना जब मध्यप्रदेश के हरदा में पहुंचे तो उन्होंने मीडिया रिपोर्टर से बात की उन्होंने कहा कि उद्योगपति श्री रतन टाटा जिस तरह से देश हित के लिए अपने कार्यों के प्रति सजग रहते हैं दंपत्ति उससे काफी प्रभावित है और रतन टाटा से मिलने की चाह में वे मैहर से मुंबई की और पद यात्रा कर रहे हैं और लक्ष्य को प्राप्त जरूर करेंगे और रतन टाटा से मिलकर ही उन्हें अपने लक्ष्य की प्राप्ति होगी। क्योंकि वह अपने लक्ष्य से भटके ना,थके ना इसके लिए वह हमेशा रतन टाटा की तस्वीर अपने साथ रखते हैं और हाथों में तिरंगा लिए जोश भरे अंदाज से अपनी पदयात्रा करते हैं।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!