Categories: खेल

भारतीय सेना के जवान ने कोरिया वर्ल्ड बॉडीबिल्डिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड, बढ़ाया भारत का मान

भारतीय सेना के जवानों की जितनी भी तारीफ की जाए कम है। देश की सुरक्षा से लेकर खेलों तक में उन्होंने अपने हुनर का लोहा मनवाया है। इन्हीं में से एक है मेरठ के रहने वाले अनुज कुमार तेलियान। इन्होंने नवंबर में दक्षिण कोरिया में आयोजित “11वीं विश्वबॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप 2019” में गोल्ड मेडल जीता। मेडल जीतने के बात भारत पहुंचे तेलियान का जोरदार स्वागत किया गया। मेरठ के सरधना जिले के रहने वाले इस फौजी ने बीते दिनों 100+ किग्रा श्रेणी में गोल्ड मेडल जीता था। यह आयोजन अमेरिका के साउथ कोरिया के जूजू आईलैंड में हुआ।

बेंगलुरु में मद्रास इंजीनियर ग्रुप के भारतीय सेना के हवलदार अनुज कुमार को अपने देश पहुंचने पर वरिष्ठ नागरिकों ने रैली निकालकर पुरस्कृत किया। तेलियान ने साल 2018 में मिस्टर इंडिया का टाइटल जीता था। चेन्नई में आयोजित 12वीं नेशनल बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में अनुज ने दूसरी बार खिताब जीता है। साल 2010 में इंडियन आर्मी जॉइन करने वाले अनुज मद्रास इंजीनियर ग्रुप में कार्यरत है। मद्रास सैवर्स के हवलदार अनुज कुमार तेलियान ने 100+ किलोग्राम से अधिक भार वर्ग में स्वर्ण जीता। छुर्र गांव निवासी अनुज पूर्णत:देसी हैं। यहां तक कि पश्चिम कोरिया में भी उन्होंने अपने इवेंट के दौरान गाना भी देसी गाया। उन्होंने “बाहुबली” का टाइटल सॉन्ग बैक स्टोर पर चलवाया। अनुज भारतीय सेना की तरफ से खेलते हैं और उनके बड़े भाई श्यामवीर तेलियान साथ रहते हैं। इंडियन बॉडीबिल्डिंग फेडरेशन द्वारा आयोजित नेशनल चैंपियनशिप में देश के अलग-अलग राज्यों से 600 बॉडीबिल्डर शामिल हुए थे।

अनुज सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं। वह अपने वर्कआउट वीडियोज इंस्टा पर शेयर करते रहते हैं। ताकि उनके फैंस को इन से प्रेरणा मिलती रहे। इससे पहले अनुज राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीत चुके हैं। उन्होंने 2018 में “सर्विस चैंपियनशिप” में भी मेडल जीता था। अनुज तेलियान कई बार नेवी, एयर फोर्स और आर्मी की बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में भी अपना दबदबा कायम कर चुके हैं।

इससे पहले अक्टूबर महीने में भारतीय सेना के मेजर अब्दुल कादिर खान ने “एशियन बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप” में भारत का मान बढ़ाया था। भारतीय सेना के “कार्प्स ऑफ सिग्नल” से संबंध रखने वाले मेजर कादिर ने 2 अक्टूबर को इंडोनेशिया में आयोजित 53वीं एशियन बॉडीबिल्डिंग और फिजिक स्पोर्ट्स चैंपियनशिप 2019 में रजत पदक जीता था। कुल मिलाकर भारतीय सेना के जवान सिर्फ सीमा पर ही देश की सेवा नहीं कर रहे हैं। वे खेल, संगीत इत्यादि में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और देश को गौरवान्वित कर रहे हैं।

Leave a Comment