24.9 C
India
Monday, September 20, 2021

यदि आप भी करते हैं Whatsapp का इस्तेमाल तो आज ही हो जाए सावधान, Google प्ले स्टोर पर है नकली

आज सभी लोग एक दूसरे से जुड़े रहने के लिए बहुत से मैसेंजर एप्लीकेशन का उपयोग करते हैं। लेकिन सबसे ज्यादा लोग व्हाट्सएप को चलाना पसंद करते हैं। जब से एंड्राइड मोबाइल में व्हाट्सएप का चलन हुआ है। उसके बाद से इस एप्लीकेशन में लगातार अपनी ग्रोथ को बढ़ाया है। बता दें कि गूगल प्ले स्टोर के माध्यम से आप व्हाट्सएप मैसेंजर को अपने मोबाइल में डाउनलोड कर सकते हैं। लेकिन ऐसे बहुत से फर्जी एप गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद हैं जिनके डाउनलोड करते ही आपको भारी नुकसान हो सकता है।

- Advertisement -

Fake Whatsapp

बता दे कि हाल ही में गूगल प्ले स्टोर की तरफ से बड़ी कार्रवाई करते हुए कुछ ऐसे एप्लीकेशन को हटा दिया था जो उनकी नजर में फर्जी और लोगों को नुकसान पहुंचाने का काम कर सकते थे। वही अब सबसे ज्यादा पॉपुलर मैसेंजर एप व्हाट्सएप को लेकर भी खबरें आ रही है कि WhatsApp के मोडिफाइड वर्जन में एक नया ट्रोजन खोजा गया है। जो यूजर की बिना अनुमति के ही। व्हाट्सएप यूजर को कई तरह के नुकसान पहुंचा सकता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसकी खोज साइबर सुरक्षा प्रमुख कास्परस्की के शोधकर्ताओं द्वारा कि गई है। इतना ही नहीं अपने द्वारा पेश की गई रिपोर्ट में शोधकर्ताओं का कहना है कि ट्रोजन ट्रायडा FMWhatsApp 16.80.0, वॉट्सएप के मोडिफाइड वर्जन को प्रभावित करता है। इतना ही नहीं उनका यह भी कहना है कि इस तरह के एप्लीकेशन को लोगों को उनकी क्षमता से ज्यादा सुविधा मुहैया कराने के लिए बनाए जाते हैं लेकिन यहां कभी कबार यूजर के लिए घातक भी साबित हो सकते हैं।

इसीलिए उनकी ओर से साफ तौर पर कहना है कि व्हाट्सएप मैसेंजर एप का मॉडिफाइड एप्लीकेशन को मोबाइल में डाउनलोड करना यूजर के लिए घातक हो सकता है। इतना ही नहीं शोधकर्ताओं द्वारा यह भी स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि व्हाट्सएप ऐसे भी है जो आपके बिना परमिशन के आपका बहुत सा डेटाएक्सेस करने में सफल रहते हैं और यदि ऐसा होता है तो आप का भारी नुकसान भी हो सकता है। इंस्टॉलेशन के समय बहुत से ऐसे विज्ञापन आते हैं जिनके माध्यम से से फर्जी एप्लीकेशन आपके ईमेल आईडी तक जाने में सक्षम रहते हैं। जो आप से जुड़ी कई जानकारी को आसानी से एक्सेप्ट कर सकते हैं।

इतने ही नहीं इस तरह के एप्लीकेशन के माध्यम से आपके अकाउंट को हाईजैक भी किया जा सकता है जिससे आपको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। इसलिए कास्परस्की की और से यह सख्त चेतावनी दी गई है कि इस तरह के एप्लीकेशन को डाउनलोड करने से जितना हो सके उतना बचा जाए। एक बार आपका अकाउंट हाइजैक होने के बाद आप कई तरह के नियंत्रण अपने हाथ से खो सकते हैं।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!