सनी देओल से पहले गोविंद को मिली थी ‘गदर’, लेकिन इस खास वजह से नहीं कर पाए फिल्म

बॉलीवुड में 80-90 के दशक में सुपरस्टार गोविंदा ने एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी और जिसके बाद से ही गोविंदा ने सभी के दिलों में अपनी अलग ही पहचान बना ली। आलम यह था कि दर्शक गोविंदा की फिल्मों को देखने के लिए इतने ज्यादा दीवाने थे कि घंटों लाइन में खड़े होकर सिनेमा के टिकट लिया करते थे। गोविंदा अपनी एक्टिंग के साथ-साथ अपने डांस के लिए भी काफी ज्यादा मशहूर है।

हिंदी सिनेमा में एक दौर ऐसा भी आ गया था कि जब ये कहा जाने लगा था कि अगर गोविंदा फिल्में नहीं करेंगे तो फिल्म इंडस्ट्री बंद हो जाएगी। गोविंदा ने बॉलीवुड में 90 के दशक से आज तक कई सुपरहिट फिल्मों में अपनी अदाकारी दिखाई है और वह आज भी पहले की तरह ही अपनी अदाकारी और डांस को लेकर पहचाने जाते हैं।

गोविंदा के बाद सनी देओल को मिला मौका

लेकिन एक दौर ऐसा भी था। कि उन्होंने कई फिल्म को करने से मना कर दिया जिसमें 90 के दशक में हिट रही ग़दर एक प्रेम कथा भी शामिल है। जिसके बाद ‘गदर’ फिल्म में सनी देओल को अपनी अदाकारी दिखाने का मौका मिला। और यह फिल्म सनी देओल के करियर की सबसे बेहतरीन फिल्म में से एक साबित हुई।

फिल्म के सुपरहिट होने के बाद सभी ने अंदाजा लगाया था कि सनी देओल से अच्छा किरदार गदर में और कोई नहीं निभा सकता था लेकिन आज भी सभी इस बात से अनजान है कि सनी देओल से पहले यह फिल्म गोविंदा को दी गई थी। एक इंटरव्यू में खुद गोविंदा ने इस बारे में खुलासा किया था। उन्होंने बताया था कि ‘गदर’ के मेकर्स उनके पास इस फिल्म का ऑफर लेकर आए थे। उन्हें फिल्म पसंद भी थी, लेकिन एक खास वजह से उन्हें ये फिल्म छोड़नी पड़ी।

गोविंदा ने बताया था कि इस फिल्म में तारा सिंह का जो रोल दिखाया गया था उसके लिए वो खुद को उतना फिट नहीं मानते थे। ऐसे में उन्हें लगा कि ये रोल उनकी इमेज से बिल्कुल भी मेल नहीं खाता है और वो इस रोल के साथ न्याय नहीं कर पाएंगे। ये ही वजह थी कि फिल्म की कहानी पसंद होते हुए भी गोविंदा ने ये फिल्म ठुकरा दी और सनी की किस्मत में एक सुपरहिट फिल्म आ गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *