28.2 C
India
Thursday, September 23, 2021

राज्यपाल ने लगाई ममता को फटकार, संवैधानिक रहो नहीं तो लगेगा राष्ट्रपति शासन

पश्चिम बंगाल में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आ रहा है वैसे वैसे पश्चिम बंगाल में बड़े नेताओं का आना प्रारंभ हो गया है। बड़े राजनेताओं के पश्चिम बंगाल में आने से ममता बनर्जी सरकार वो कल आने लगी है। विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही पश्चिम बंगाल में हिंसक व्यवहार काफी बढ़ गया है। कई महीनों से हम देखते आ रहे हैं पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं को टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा नुकसान पहुंचाया जा रहा है।

- Advertisement -

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा अपने दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे पर आए हुए है। गुरुवार के दिन जेपी नड्डा का काफिला भाजपा चुनाव कार्यालय की तरफ जा रहा था उस समय उनके काफिले पर हमला हुआ। इस हमले को लेकर पूरे राष्ट्र में भाजपा कार्यकर्ताओं और पार्टी के सदस्यों में रोष है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर हुए हमले के मामले की गंभीरता को समझते हुए राज्यपाल ने आज बयान दिया। राज्यपाल ने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को खुले शब्दों में यह चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने अराजकता फैलाई तो वह बंगाल के लिए राष्ट्रपति शासन लगाना उचित समझेंगे।

राज्यपाल ने हमले की निंदा की

राष्ट्रपति ने मामले की गंभीरता को समझा और उनके बयान के पीछे की मुख्य वजह है की गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को ही पश्चिम बंगाल के डीजीपी और मुख्य सचिव को बंगाल में चल रही कानूनी स्थितियों को लेकर समन भेजा है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले की राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने निंदा की है। उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल में दिन-ब-दिन कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ती जा रही है। पश्चिम बंगाल में बाहरी और आंतरिक जैसी मारो स्थिति का गंभीर खेल चल रहा है। राज्यपाल ने ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगाया और पश्चिम बंगाल की कानून व्यवस्था का उल्लंघन करने वालों को पुलिस और प्रशासन से प्राप्त संरक्षण की बात भी कही।

राज्यपाल ने ममता बनर्जी को कहां की आपको कल दिए गए बयान जोकि जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले पर था उस संदर्भ में माफी मांगनी चाहिए। आपको बता दें कल ममता बनर्जी ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि बीजेपी के पास कोई और कार्य नहीं है इसलिए इनके तमाम बड़े नेता बंगाल में आते रहते हैं कभी इनके गृहमंत्री यहां होते हैं और कभी कोई चड्डा नड्डा पड्डा यहां रहते हैं। भाजपा के नेताओं को जब रैलियों में भीड़ नहीं मिलती तो इनके कार्यकर्ता बौखला जाते हैं और नौटंकी शुरू कर देते हैं।

ममता सरकार को हिदायत

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ नए बंगाल की सीएम ममता को हिदायत दी है कि वह संविधान का पालन करें। वह संविधान से बाहर जाकर कार्य नहीं कर सकती। बंगाल में कानून की व्यवस्था दिन पर दिन बिगड़ती जा रही है जिससे जनता में भय का माहौल है। राज्यपाल ने हमले की घटनाओं को लेकर चिंता व्यक्त की है और इसे लोकतंत्र पर काला धब्बा बताया है राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने हो रही घटनाओं को दुर्भाग्यपूर्ण कहा और लोकतांत्रिक ढांचे पर एक काले धब्बे के रूप में बताया। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुरुवार के हमले को लेकर चिंता व्यक्त की और कहा कि बंगाल प्रशासन दी गई हिदायत और चेतावनी के बावजूद अपनी जिम्मेदारियों में असफल रहा।

राज्यपाल ने ट्विटर के माध्यम से यह बताया कि उन्होंने गुरुवार सुबह 8:00 और 9:00 बजे मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को किसी भी अप्रिय घटना के संबंध में शंका व्यक्त की थी और कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए भी कहा था। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा अपने पश्चिम बंगाल के दौरे पर आए हुए हैं गुरुवार के दिन डायमंड हार्वर क्षेत्र में उन पर हमला हुआ था। राष्ट्रीय अध्यक्ष के काफिले में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय थे जिनकी गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई है।

घटना के बाद बंगाल बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष ने कहा डायमंड हार्बर की घटना तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों द्वारा की गई है जिसमें उन्होंने काफिले पर हमला किया और हमारा मार्ग अवरुद्ध किया। तृणमूल कॉन्ग्रेस समर्थकों ने पत्थरों से और लाठियों से हमला भी किया। तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों द्वारा किया गया यह व्यवहार तृणमूल कांग्रेस का असली चेहरा दिखाता है। आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता ममता बनर्जी को इसका जवाब देगी।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!