Categories: न्यूज़

बेरोजगार युवकों को नौकरी का झांसा देकर करते थे ठगी, फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़

हरियाणा के गुड़गांव में पुलिस ने बेरोजगार युवकों को बहुराष्ट्रीय कंपनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर कथित रूप से ठगने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है और 14 लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी सुभाष बोकन ने बताया कि साईबर शाखा की एक टीम ने मंगलवार को इस स्पाजेड टावर में काल सेंटर असादिवि इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड पर छापा मारा और वहां से दो लैपटॉप, 10 मोबाइल फोन, 10 सिम कार्ड एवं ₹1,50,000 नकद बरामद किए। इस मामले में हरियाणा पुलिस ने बताया कि इस धोखाधड़ी का खुलासा तब हुआ जब 15 जुलाई को राहुल कौशिक नामक व्यक्ति ने फर्जी कॉल सेंटर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

हरियाणा के गुड़गांव में पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर के नाम पर लोगों को ठगने वाले गिरोह के 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने यह खुलासा किया है कि बेरोजगार युवकों को विदेशी कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर कथित रूप से ठगते थे। पुलिस ने यह भी बताया कि गिरोह फर्जी कॉल सेंटर के माध्यम से युवकों से संपर्क कर उन्हें अपने जाल में फंसाते थे। आरोपियों से पुलिस आगे पूछताछ कर रही है और मामले का पूरा खुलासा जांच के बाद करने की बात कही।

ऐसे चुनते थे अपना शिकार
बोकन के अनुसार पूछताछ के दौरान आरोपियों ने खुलासा किया कि वे युवकों को फोन पर विदेशी कंपनियों में अच्छी नौकरी का झांसा देते थे। पुलिस ने यह भी खुलासा किया कि इन युवकों के नाम नंबर ऑनलाइन जॉब पोर्टल से निकालते थे। मामले में ऑनलाइन जॉब पोर्टल से जुड़े कुछ लोगों के शामिल होने की आशंका है। पुलिस के अनुसार इन लोगों ने गुड़गांव के पाॅश इलाके के सोहना रोड पर स्पेज आईटी पार्क बिल्डिंग में अपना एक ऑफिस बनाया हुआ था। जहां पर यह लोग फर्जी कॉल सेंटर चला रहे थे। इन लोगों ने अपनी वेबसाइट बनाई हुई थी। जिसके जरिए शिकार को अपने जाल में फंसाते थे। इनके वेबसाइट का नाम ऐसा होता था जिसके जरिए जरूरतमंद शख्स उनके झांसे में आसानी से आ जाता था।

Leave a Comment