विदाई जिसे देख हर आँख हुई नम – पिता की अंतिम यात्रा में बेटियों ने दिया कंधा

घटना राजस्थान के बांसवाड़ा की है, इस अंतिम यात्रा को देख कोई अपने आंसू नहीं रोक पाया। इसमें एक पिता ने बेटियों के कंधे पर अपना अंतिम सफर पूरा किया। इतना ही नहीं इन बेटियों ने पिता को मुखाग्नि देकर बेटे का फर्ज भी अदा किया।

google news

बांसवाड़ा की खांडू कॉलोनी निवासी भगवती शंकर जोशी का गुरुवार को निधन हो गया था। जोशी के तीनों लड़कियां ही है, उनके बेटा नहीं है। लेकिन इन बेटियों ने पिता की अंतिम इच्छा अनुसार अर्थी को कंधा देकर मुखाग्नि दी। आजकल लड़कियां भी बेटों से कम नहीं है। अब कुछ लोगों की बेटे की धारणा बदल चुकी है।

जोशी राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री हरिदेव जोशी के रिश्तेदार थे। उनकी अंतिम यात्रा में बड़ी मात्रा में लोग सम्मिलित हुए कोख में बेटियों के कत्ल के मामले में बदनाम रहे राजस्थान में बेटियों को लेकर धारणा बदल चुकी है। इसी का नतीजा है कि सामाजिक रीति-रिवाजों में भी बेटियां आगे आ रही है। अब ना केवल बेटियां माता पिता की सेवा सुश्रुषा करती है, बल्कि उनकी अर्थी को कंधा भी देती है। वह उनकी शवयात्रा में शामिल होकर मोक्ष धाम भी जाने लगी है।

इसे भी पढ़े : –

google news

Stay Connected

272,586FansLike
3,667FollowersFollow
18FollowersFollow
Follow Us on Google Newsspot_img

Latest Articles