Categories: न्यूज़

अचानक 25 मौत, शहर पूरी तरह बंद इमरजेंसी घोषित, जाने कौन सा बरपा रहा है कहर

चीन में कोरोना वायरस ने अपनी जड़े जमा ली है। इस वायरस से चीन में मौतों की संख्या लगातार बढ़ने से यहां आपातकाल घोषित कर दिया गया है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार 25 शहरों और प्रांतों में नए कोरोना वायरस के 571 मामलों की पुष्टि हुई है। वैश्विक आपदा घोषित की तैयारी अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया और थाईलैंड में नए कोरोना वायरस की पुष्टि के मामले भी दर्ज किए गए। चीन के हुबई प्रांत के वुहान शहर में इसका सबसे अधिक असर है। चीन में इस वायरस से बीमार के 571 मामलों की पुष्टि हुई। जिसमें लोगों की हालत गंभीर है और 70 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन के 13 प्रांतों में 250 से ज्यादा नए संदिग्ध मामले दर्ज किए गए। हजारों लोग इसकी चपेट में है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि नए कोरोना वायरस के प्रकोप को वैश्विक आपदा घोषित किया जाना चाहिए या नहीं इस पर निर्णय लेने के लिए जानकारी एकत्र करने की जरूरत है। गुरुवार से वुहान से बाहर जाने वाली सभी ट्रेनों और उड़ानों पर रोक लगा दी गई है। वुहान से बाहर आखिरी उड़ान गुरुवार को आस्ट्रेलिया गई ऑस्ट्रेलिया के चीफ मेडिकल ऑफिसर ब्रेंडन मर्फी ने कहा कि किसी यात्री के बीमार होने की खबर नहीं है। लोगों को बिना कारण घर से निकलने से मना किया गया है। साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनकर आने का नोटिस जारी किया गया है। माना जा रहा है कि वायरस वुहान बाजार में सी फूड बाजार से फैला।यातायात बंद किए जाने पर डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा कि इस कदम से चीन न केवल अपने देश के वायरस के प्रकोप को नियंत्रित करेगा, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फैलने की आशंका भी कम करेगा।

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि चीन में रहने वाले भारतीयों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। वहां हमारे दूतावास ने भी एडवाइजरी जारी की है। वहां से आने वाले लोगों को स्वास्थ्य जांच से गुजरना होगा। चीन में वायरस की चपेट में आया पहला पीड़ित इलाज के बाद स्वस्थ हो गया है। वुहान रेलवे स्टेशन पर काम करने वाला 23 वर्षीय ह्वान्ग 24 दिसंबर को बीमार होकर गिर पड़ा था। सिर दर्द और चक्कर आने की शिकायत पर उसेअस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया था। जिस जगह पर बीमार हुआ वह जगह सीफूड बाजार के नजदीक है।

Leave a Comment