28.2 C
India
Friday, October 22, 2021

हारे हुए कांग्रेस नेता विजेंदर ने दी खेल रत्न लौटने की बात, जनता बोली पैसा, जमीन भी लौटाओ

किसानों के आंदोलन को लेकर कोई समाधान नहीं निकल रहा है और राजनीति गर्म हो चली है। कई बॉलीवुड सेलिब्रिटी और राजनीतिक पार्टियों ने किसान आंदोलन को सपोर्ट करना शुरू कर दिया है। इसी सबके बीच कांग्रेस के नेता और पेशे से बॉक्सर विजेंद्र सिंह किसानों के सपोर्ट में खुलकर सामने आए हैं। बीते दिनों विजेंद्र सिंह ने किसान आंदोलन पर खुले मंच से यह धमकी दी कि अगर किसानों की मांग नहीं मानी गई तो वह अपना खेल रत्न अवार्ड वापस कर देंगे।

जनता ने माँगा हिसाब

- Advertisement -

विजेंद्र सिंह की इस धमकी को लेकर जनता में काफी आक्रोश है। भारत सरकार ने विजेंद्र सिंह को यह अवार्ड तब दिया था जब वह बतौर खिलाड़ी थे और अब वह अवार्ड वापसी की धमकी दे रहे हैं बतौर कांग्रेसी नेता। जनता का कहना है कि यह अवार्ड विजेंद्र सिंह को बतौर खिलाड़ी दिया गया था और आज राजनीति के चलते इसे वापस करने की बात कर रहे हैं जो कि शर्मनाक है। जनता का यह भी कहना है कि शायद विजेंद्र सिंह को भारतीय पुरस्कारों की कोई अहमियत ही नहीं है और राजनीति के आगे उन्हें इन पुरस्कार शून्य लगते है।

सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसान और बॉक्सर विजेंद्र सिंह एक मंच से किसानों को संबोधित करते नजर आए। मंच से बॉक्सर विजेंद्र सिंह ने कहा किसानों के समर्थन के लिए बतौर खिलाड़ी होने के नाते मैं राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार वापस करना चाहता हूं। मैं सरकार से गुजारिश करता हूँ कि वह तुरंत कृषि के काले कानून वापस लें। मैं यही कहना चाहता हूं कि हरियाणा हमेशा पंजाब के साथ खड़ा है। मंच से बॉक्सर विजेंद्र सिंह ने किसान एकता का नारा भी दिया है।

अब प्रश्न यह उठता है कि बतौर खिलाड़ी भारत के लिए खेल चुके हैं वर्तमान के कांग्रेस सदस्य विजेंद्र सिंह को यह अवार्ड ही वापस नहीं करना चाहिए बल्कि इसके साथ दिए गए वह सभी रुपए, जमीन, मूल्यवान उपहार और मकान भी वापस करना चाहिए जो भारत सरकार और विभिन्न संस्थाओं द्वारा उन्हें दिए गए थे। विजेंद्र विजेंद्र सिंह किसान अनुदान के इतने बड़े समर्थक हैं तो उन्हें वह तमाम अवार्ड और उनसे जुड़ी हुई सुविधाएं तुरंत वापस कर देनी चाहिए।

कांग्रेस सीट से हार चुके है

आपको बता दें कि बॉक्सर विजेंद्र सिंह जो की वर्तमान में कांग्रेस के सदस्य हैं उन्होंने 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ा था। बीजेपी के उम्मीदवार रमेश बिधूड़ी ने उन्हें चुनाव में करारी हार दी थी। पिछले चुनाव में ही विजेंद्र सिंह खिसक कर तीसरे नंबर पर आ चुके थे। विलुप्त हो रही कांग्रेस पार्टी का दामन थामकर राजनीति मैदान में कूदने वाले और जनता द्वारा नकारे जाने के बाद बुरी तरह आहत विजेंद्र सिंह कई दिनों से उटपटांग ट्वीट कर अपनी टूटी हुई मानसिकता का परिचय दे रहे हैं।

बॉक्सर विजेंद्र सिंह के इस बयान पर केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों को भड़का रही है। कल यानी 8 दिसंबर को किसानों ने भारत बंद का ऐलान किया है और कहा कि सरकार बनाए हुए नए कानूनों को जब तक वापस नहीं लेगी तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। इन सब बातों से साफ दिखाई दे रहा है कि यह मामला उलझता जा रहा है। भारत बंद के अगले दिन यानी कि 9 दिसंबर को किसानों और सरकार के बीच छठे दौर की बातचीत होगी। अब देखने वाली बात यह होगी कि कैसे सरकार किसानों को अपने पक्ष में करती है।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

112,451FansLike
1,152FollowersFollow
13FollowersFollow

Latest Articles

error: Content is protected !!