Categories: राजनीति

दिल्ली हिंसा: प्रशासनिक मशीनरी पर बोले CM योगी, इनकी ऊर्जा को डायवर्ट न करें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी में हो रहे प्रदर्शनों और दिल्ली में हिंसा पर सवाल खड़े किए हैं। CM योगी ने पूछा कि आखिर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर इतना बवाल क्यों है? आखिर देश की छवि आप लोग क्यों खराब करना चाहते हैं? देश में आगजनी करके तोड़फोड़ करके निर्दोष लोगों को निशाना बनाकर यह लोग क्या चाहते हैं?

CM योगी ने कहा कि प्रदेश के विकास को रोक रहे हैं, देश की छवि को खराब कर रहे हैं। जब देश दुनिया की आर्थिक ताकत बनने के करीब है, तब विपक्ष का यह रवैया गैर जिम्मेदाराना पूर्ण है। उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ लोकतंत्र के लिए शुभ लक्षण नहीं माना जा सकता। हम लोग गलतफहमी पैदा करना बंद करें। विरोध सदन में करें, विपक्ष में इससे अच्छा मंच कहीं नहीं मिल सकता।

इसके साथ ही CM योगी ने कहा कि एक बात यह साफ-साफ नोट कर लें कि वह गलतफहमी के शिकार ना हो क्योंकि कयामत का दिन कभी नहीं आएगा। कोई गलत फहमी का शिकार होगा तो उसका समाधान अच्छे से करना जानते हैं। CM योगी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर विरोध प्रदर्शन होना अनावश्यक है। यह नागरिकता देने का कानून है। प्रधानमंत्री बार बार कह चुके हैं इससे किसी की नागरिकता नहीं जाने वाली है।

यह कानून 1955 में कांग्रेस सरकार ने बनाया था। इसमें सिर्फ एक संशोधन किया गया है 11 वर्ष की जगह पर 5 वर्ष कर दिया गया। CM योगी ने कहा कि वह बनाएंगे तो ठीक है, हम बना देंगे तो बुरा है? कोई जगह नहीं मिली इनको, हर जगह अव्यवस्था पैदा करके भ्रम फैला रहे हैं। जिस प्रशासनिक मशीनरी को विकास के काम में जोड़ना चाहिए था, उसे जबरदस्ती केवल कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए उसकी ऊर्जा को डायवर्ट किया जा रहा है।

Leave a Comment