Categories: देश

खौफ में कट रही है CAA पर उपद्रव करने वालों की रातें, कटवा लिए दाढ़ी बाल, भिखारियों में बांटे कपड़े

UP में CAA को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शनों के बाद पत्थरबाजी और आगजनी करने वालों पर पुलिस ने कार्यवाही शुरू कर दी है। गोरखपुर पुलिस ने उपद्रवियों की खोज में पोस्टर जारी किए हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने धरपकड़ शुरू की तो उपद्रवियों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए निंजा टेक्निक अपना ली। जी हां अपनी पहचान छिपाने के लिए नए हेयर स्टाइल बदलवाने से लेकर प्रदर्शन के दौरान पहने गए अपने कपड़ों को भिखारियों को बांट रहे हैं। पुलिस के अनुसार कोई उपद्रवी अपना हेयर स्टाइल बदल रहा है तो कोई अपनी फेवरेट दाढ़ी शेव करवा रहा है। क्लीन शेव रहे लोगों ने दाढ़ी बढ़ाना शुरू कर दिया है, तो कोई धोनी स्टाइल बाल रख रहा है, कोई गजनी, कोई शाहरुख कटिंग तो कोई कोहली कटिंग करवा रहा है। यह सब इसलिए किया जा रहा है कि कहीं पुलिस पकड़ न ले, न पुलिस पहचानेगी न पकडेगी।

इसके बाद से लड़के अपना लुक बदलने के लिए सैलून के चक्कर लगा रहे हैं। पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए सैलूनों पर मुखबीर लगा रखे हैं। इस मामले में कई सैलून वालों ने खुलासे किए हैं। सैलून के नाईयो ने बताया कि इसी तरह बज कट, रफ वेव्स, क्रु कट, फ्लैट टॉप आदि हेयर स्टाइल अपनी पहचान छिपाने के तरीके हैं। उपद्रवी पूरी कोशिश कर रहे हैं तो उनका लुक पहचान में न आए और वे पकड़े न जाए। आंदोलनकारियों की कोशिश यही है कि पुलिस को चकमा देने में कामयाब हो जाएं। इस सूचना पर पुलिस ने भी सैलूनों पर अपनी नजर बढ़ा दी है। इसके लिए मुखबिर भी लगाए गए हैं। सीसीटीवी में जिन लोगों के चेहरे पहचान लिए गए हैं उन्होंने अपने बाल तक छोटे करवा डालें हैं। कुछ गजनी बन गए है।

उपद्रवियों को डर है कि सीसीटीवी में देखकर पुलिस उनको पकड़ लेगी, इसलिए प्रोटेस्ट के दौरान जो कपड़े उन्होंने पहने थे, वे भिखारियों में बांट दिए। सर्दियों में आमतौर पर हेयरकट और शेविंग कराने के लिए सैलूनों पर कम भीड़ लगती है। लेकिन शनिवार को पुलिस ने पत्थरबाजों के पोस्टर जारी किए और सीसीटीवी फुटेज में उनकी तस्वीरें होने का दावा किया। इसके बाद रविवार को बक्शीपुर, घासी कटरा, इलाहाबाद, साहब गंज, मिर्जापुर आदि के सैलूनों में भीड़ बढ़ गई है। सैलून पर काम करने वाले ये भीड़ देख कर चौंके कि अचानक धंधा चंगा कैसे हो गया?

यूपी के साहबगंज के एक सैलून में लड़के ने पहले दाढ़ी साइज जीरो करवाई। फिर उसे लगा कि इसमें काम नहीं बनेगा तो क्लीन शेव करा ली। तब सैलून वालों को शक हो गया और वह सारा माजरा समझ गए। ऐसे लोगों की धरपकड़ के लिए गोरखपुर कोतवाली सर्किल ऑफिसर वी.पी.सिंह ने सोमवार और मंगलवार को नखास, रेती, घंटाघर, उर्दू बाजार और बक्शीपुर इलाकों में गश्त की। सीओ कोतवाली वी. पी. सिंह ने बताया कि मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि उपद्रवी अपनी पहचान छुपाने के लिए अपनी हेयर स्टाइल बदल रहे हैं।

Leave a Comment