Categories: Uncategorized

सुशांत की बहन के खिलाफ रिया की शिकायत की CBI करेगी जांचः मुंबई पुलिस

रिया चक्रवर्ती ने ‘फर्जी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन’ को लेकर सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका सिंह और राम मनोहर लोहिया अस्पताल के अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद बांद्रा पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया। मुंबई पुलिस ने कहा कि एनडीपीएस अधिनियम की धारा 420, 464, 465, 466, 468, 474, 306, 120B, 34 और 8 (c), 21, 22 (A), 29 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मुंबई पुलिस ने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार, मामले को आगे की जांच के लिए CBI को स्थानांतरित कर दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत की मौत से जुड़े किसी भी मामले और FIR को CBI को सौंपने का आदेश दिया था।

रिया ने दर्ज कराई शिकायत

रिया का आरोप है कि प्रियंका ने राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टर तरुण कुमार और अन्य लोगों के साथ मिलकर एक फर्जी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन देकर NDPS एक्ट और टेली मेडिसिन प्रैक्टिस गाइडलाइंस 2020 का उल्लंघन किया है। इनके खिलाफ यह आरोप है कि 8 जून, 2020 को सुशांत को Out Patient Department रोगी की तरह दिखाते हुए उन्हें NDPS एक्ट में आइटम 36 और 37 के तौर पर लिस्ट की गई दवाइयां प्रिस्क्राइब की गई थीं।

ये दवाइयां लिस्ट में साइकोट्रॉपिक सब्सटेंस के तहत रखी गई हैं और टेली मेडिसिन्स प्रैक्टिस गाइडलाइंस के प्रतिबंधित लिस्ट के तहत आती हैं। इस लिस्ट के तहत NDPS एक्ट के तहत प्रतिबंधित किसी भी साइकोट्रोपिक सब्सटेंस और नारकोटिक के प्रिस्क्रिप्शन पर बैन लगा हुआ है। ऐसा करना टेली मेडिसिन प्रैक्टिस गाइडलाइंस का उल्लंघन करना है।

ये भी पढ़ेंः सुशांत के परिवार ने शेयर किए उनके ड्रीम्स, जानें क्या थे उनके सपने

सुशांत के परिवार ने रिया की शिकायत पर दी प्रतिक्रिया

अभिनेता की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने साफ कर दिया है कि वो ‘झूठी FIR’ से डरने वाली नहीं है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘कुछ भी हमें तोड़ नहीं सकता, झूठी FIR से बिल्कुल नहीं टूटेंगे!’

सुशांत के पारिवारिक वकील विकास सिंह ने भी एक प्रेस कॉफ़्रेंस में कहा कि ‘सिर्फ मामले को भटकाने के लिए और खुद को बचाने के लिए एक साजिश है।’

विकास सिंह ने कहा -”जो शिकायत दर्ज कराई गई है, उसे मैंने देखा और समझा। उसके बाद मुझे लगा कि इस शिकायत के बारे में बताना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस शिकायत को दर्ज करने के लिए मुंबई पुलिस का बिल्कुल अधिकार नहीं है, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट रूप से कहा कि इस मामले से संबंधित कोई भी शिकायत CBI में ही की जाएगी। इसलिए ये एक साजिश है कि किसी तरह से मुंबई पुलिस एक्टिव रहे और इस केस की जांच में हस्तक्षेप कर सकें।”

ये भी पढ़ेंः रिया से मंगलवार को फिर होगी पूछताछ, कोर्ट में पेश किए जाएंगे हिरासत में लिए गए आरोपी: NCB



bharat.republicworld.com

Leave a Comment