Categories: Uncategorized

शिवसेना ने फिर साधा कंगना पर निशाना; BJP पर लगाया ‘Y-ग्रेड’ इलजाम

शिवसेना ने बुधवार को एक बार फिर कंगना रनौत और भाजपा पर तीखा हमला बोला है। अपने मुखपत्र ‘सामना’ में, सेना ने कंगना के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी को सही ठहराया है और केंद्र द्वारा उन्हें दी गई ‘वाई-ग्रेड’ सुरक्षा का विरोध किया है।

शिवसेना ने कंगना को ‘देशद्रोही’ करार दिया है जिन्होंने उस मिट्टी के प्रशासन की आलोचना की जिसने उन्हें एक सफल करियर दिया है। एक और अपमानजनक टिप्पणी करते हुए, पार्टी ने उन्हें ‘सुपारीबाज अभिनेत्री’ कह दिया है। इसके अलावा, केंद्र सरकार द्वारा क्वीन अभिनेत्री को प्रदान की गई सुरक्षा पर भी सेना ने हमला बोलते हुए कहा कि ‘यह मुंबई को महाराष्ट्र से अलग करने की भाजपा की रणनीति है।’

इससे पहले सोमवार को, महाराष्ट्र के सीएम ने कंगना पर अप्रत्यक्ष निशाना साधते हुए कहा था कि ‘देश के कोने कोने से लोग रोजी रोटी कमाने के लिए मुंबई और महाराष्ट्र आते हैं। वे लोग नाम कमाते हैं। कुछ लोग मुंबई का कर्ज चुकाते हैं जबकि कुछ नहीं।’

ये भी पढ़ेंः कंगना-सेना विवाद के बीच बोले फडणवीस- CM ठाकरे ने कहा था पुलिस सिर्फ बर्तन धोने में सक्षम’

ये भी पढ़ेंः Kangana Ranaut LIVE Updates: मुंबई के लिए रवाना हुईं एक्ट्रेस कंगना रनौत

कंगना बनाम शिवसेना

पिछले दिनों शिवसेना सांसद संजय राउत ने कंगना को कथित तौर पर ‘मुंबई नहीं आने’ की धमकी दी थी, जिसके बाद कंगना रनौत ने ‘मुंबई की तुलना पहले पीओके से और फिर तालिबान से कर डाली।’

विवाद तब और बढ़ गया जब शनिवार को शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कंगना के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। राउत ने मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने को लेकर कंगना को देख लेने की धमकी भी दी थी। जिसके बाद कंगना रनौत ने कहा था कि वो 9 सितंबर को मुंबई जांएगी। हिम्मत है तो उन्हें कोई रोक कर दिखाए। केंद्र सरकार ने उन्हें Y श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है।

मुंबई के लिए रवाना हुईं कंगना

कंगना रनौत हिमाचल प्रदेश से मुंबई के लिए रवाना हो चुकी हैं। कंगना, मंडी (हिमाचल प्रदेश) से सीधे चंडीगढ़ जाएंगी जिसके बाद वो वहां से मुंबई के लिए फ्लाइट लेंगी। मुंबई जाने से पहले उन्होंने अपना कोविड-19 टेस्ट कराया है जो नेगेटिव आया है। इस बीच, उनके मुंबई ऑफिस पर बीएमसी द्वारा छापा मारने के बाद वहां सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बीएमसी ने उन्हें काम रोकने के लिए एक नोटिस थमा दिया है।



bharat.republicworld.com

Leave a Comment