Categories: Uncategorized

शिवसेना की ‘चुनौती’ पर मुंबई के लिए रवाना हुईं कंगना रनौत , कहा- ‘अभी कुछ नहीं बोलूंगी’

कंगना रनौत और शिवसेना के बीच जारी टकराव थमने का नाम नहीं ले रहा। वहीं अभिनेत्री अब शिवसेना सांसद संजय राउत की उस धमकी को चुनौती देने के मूड में आ गयी हैं जिसमें उन्होंने कंगना के मुंबई आने पर ‘देख लेने’ की बात कही थी। इन सब के बीच, मंगलवार को कंगना मुंबई के लिए रवाना हो गयीं। मनाली से निकलते वक्त जब मीडिया ने उनसे संजय राउत पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि ‘मैं अभी इस पर कुछ नहीं कहूंगी।’

इससे पहले सुशांत केस में महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने के बाद से उन पर लीगल नोटिस की बाढ़ आ गई है। पहले मुंबई के पुलिस कमिश्नर की कथित ‘बदनामी’ को लेकर लीगल नोटिस और फिर अब एक्ट्रेस के मुंबई स्थित ऑफिस पर बीएमसी की टीम ने नोटिस चिपका दिया है। इसकी पुष्टि खुद एक्ट्रेस ने की है।

दरअसल बीएमसी का आरोप है कि कंगना रनौत का ऑफिस ‘अवैध तरीके’ से बनाया गया है। वहीं कंगना ने कहा कि सोशल मीडिया पर मेरे दोस्तों की आलोचना की वजह से आज BMC वाले मेरे ऑफिस पर बुलडोजर के साथ नहीं आए। बल्कि कार्यालय में चल रहे रिसाव के काम को रोकने के लिए एक नोटिस चिपका दिया है। उन्होंने आगे कहा कि दोस्तों मुझे बहुत ज्यादा ख़तरा हो सकता है लेकिन मुझे आप सभी का अपार प्यार और समर्थन मिल रहा है।

ये भी पढ़ें: कंगना रनौत को BMC का नोटिस, ‘नहीं रोका काम तो ऑफिस पर होगी बड़ी कार्रवाई’

ये भी पढ़ें: कंगना पर महाराष्ट्र सरकार और पुलिस का दोहरा वार, शिकायत के साथ मिला कानूनी नोटिस

कंगना बनाम शिवसेना: क्या है पूरा मामला

बता दें कि पिछले दिनों शिवसेना सांसद संजय राउत ने कंगना को कथित तौर पर ‘मुंबई नहीं आने’ की धमकी दी थी, जिसके बाद कंगना रनौत ने ‘मुंबई की तुलना पहले पीओके से और फिर तालिबान से कर डाली।’ अब उनकी इस तुलना के लिए शिवसेना के IT सेल द्वारा उनके खिलाफ ‘राजद्रोह’ का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई जा चुकी है।

इस बीच, विवाद तब और बढ़ गया जब शनिवार को शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कंगना के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। राउत ने मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने को लेकर कंगना को देख लेने की धमकी भी दी थी। जिसके बाद कंगना रनौत ने कहा था कि वो 9 सितंबर को मुंबई जांएगी। हिम्मत है तो उन्हें कोई रोक कर दिखाए। वहीं एक्ट्रेस की सुरक्षा को देखते हुए केंद्र सरकार ने उन्हें Y श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है।

ये भी पढ़ें: स्मिता ने उड़ाया राउत का मज़ाक, कंगना को ‘अपमानजनक शब्द’ से बुलाने पर दी थी सफाई

(अखिलेश त्रिपाठी की रिपोर्ट)



bharat.republicworld.com

Leave a Comment