वायरल वीडियो: कंगना को पसंद आये मिट्टी के बर्तन, अपनी गाड़ी रुकवाकर ऐसे करने लगी खरीदी!

बॉलीवुड क्वीन कंगना रणौत इन दिनों मध्यप्रदेश में हैं। वे अपनी आगामी फिल्म धाकड़ की शूटिंग के लिए यहां आई है। लेकिन अपने फ्री समय का भी अभिनेत्री खूब उपयोग कर रही है। वे शूटिंग के बीच में इंजॉय करती हुई भी नजर आ जाती है। बता दें कि उनकी इस फिल्म को लेकर दिक्कते भी आयी, लेकिन मध्यप्रदेश प्रदेश सरकार द्वारा उन्हें सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई गई है।

kangana in betul

मिट्टी के बर्तनों पर आया दिल

दरअसल, MP में कई तरह की संस्कृति मौजूद हैं। यहां आज भी पुराने जमाने के कला कृतियां बनाई जाती है। ऐसे ही जब अभिनेत्री कंगना बैतूल जिले के शाहपुर से गुजर रही थी तो उनकी नजर मिट्टी के बने बर्तनों पर पड़ी फिर क्या था वे अपने आप को रोक नहीं पाई उन्हें इनकी बनाबट भा गई।

बता दें कि कंगना सोमवार की शाम सारणी में फिल्म धाकड़ की शूटिंग करने के लिए जब वे होशंगाबाद के चुरना से नेशनल हाइवे 69 से गुजर रहीं थीं, तब उन्होंने सड़क किनारे मिट्टी के बर्तन की दुकानें देखकर अपना वाहन रुकवाया।

दुकानदार से पूछा हालचाल

इसके बाद अभिनेत्री खरीदी करने के लिए दुकान में जा पहुंची जहां उन्होंने कॉफी पीने के लिए कुल्हड़ और कप दिखाने के लिए कहा। वहीं दुकानदार के बच्चों से मिट्टी द्वारा बनाए जाने वाले इन बर्तनों की जानकारी भी ली। वहीं कंगना ने इससे होने वाली आय के बारे में भी दुकानदार से जानकारी ली।

कंगना ने कॉफी पीने के लिए उपयोग में आने वाले मिट्टी के कप और कुल्हड़ के साथ मिट्टी का जग और लस्सी पीने का गिलास खरीदा। बच्चों से उन्होंने सारी चीजों के दाम पूछे और 500 रुपये का भुगतान किया।

वहीं खरीदी करने के साथ ही अभिनेत्री ने दुकानदार की बेटी वैशाली से पढ़ाई की भी जानकारी ली और बहुत सी बातें भी करी। इस बारे में दुकानदार के बच्चों लक्की और वैशाली ने बताया कि वे कंगना को नहीं पहचानते थे। जब दुकान पर ढेर सारे लोगों की भीड़ लगी और सब फोटो खींचने लगे तब पता लगा कि कोई हीरोइन हैं।

मिट्टी के बर्तन बनाने वाले दुर्गेश की पत्नी पूनम प्रजापति ने बताया किइ उन्हें बाद में पता चला कि फिल्म अभिनेत्री कंगना उनकी दुकान पर आईं थीं। जब तक वे घर से दुकान पर पहुंचीं तब तक वे चली गईं। पहले पता होता तो दुकान पर मौजूद रहकर एक फोटो जरूर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *