Categories: देश

राजनाथ की ईरान यात्रा से चीन में तनाव, भारत को मिली बड़ी कूटनीतिक सफलता

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच लद्दाख में चल रहे गतिरोध के बीच भारत को बड़ी सफलता हाथ लगी है. LAC पर चीन की चालबाजी को नष्ट करने के बाद भारत सरकार ने चीन को कूटनीतिक स्तर पर भी पटखनी दी है. रूस में पूरी दुनिया ने भारत के दम को देखा कि किस तरह चीन गिड़गिड़ाते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से मिलने आया. अब भारत ने इस मुद्दे पर ईरान को अपने साथ ले लिया है.

क्षेत्रीय सुरक्षा पर बल देंगे दोनों देश

गौरतलब है कि ईरान दौरे पर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को तेहरान में ईरान के रक्षा मंत्री ब्रिगेडियर जनरल अमीर हातमी से मुलाकात की थी. इस बैठक में साफ साफ देखा गया था कि ईरान बहुत उत्सुकता से रक्षामंत्री से बात कर रहा था. इस दौरान दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की हुई थी.

क्लिक करें- राम मंदिर: तेज गति से चल रहा भव्य मंदिर का निर्माण कार्य, नक्शा हो चुका है पास

अफगानिस्तान में शांति बहाली के लिए मिलकर करेंगे काम

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बैठक में क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा हुई. जिसमें अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता बहाल करने का मुद्दा भी शामिल था. उल्लेखनीय है कि अफगानिस्तान में शांति बहाल होने से भारत को बहुत लाभ मिलेगा. जो इस्लामी कट्टरपंथी आतंकवादी पाकिस्तान में पाले जाते हैं उन्हें अफगानिस्तान से संरक्षण मिलता है. आतंकवाद पर पहुंचाई गई हर चोट पाकिस्तान को जख्म देती है.

भारत ईरान की एकता के दूरगामी परिणाम

आपको बता दें कि सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई इस बैठक में दोनों रक्षामंत्रियों भारत- ईरान के वर्षों पुराने सांस्कृतिक, भाषाई और सामाजिक रिश्तों को मजबूत करने पर बल दिया. इस दौरान दोनों देशों के संबंधों को अगले स्तर तक ले जाने के तरीकों पर भी चर्चा की गई. भारत के साथ ईरान के आने से चीन में तनाव बढ़ गया है और उसको वैश्विक रूप से बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है.

zeenews.india.com

Leave a Comment