Categories: देश

रक्षा निर्यात में बढ़ते भारत के कदम, 2018 में 10,745 करोड़ का किया निर्यातः बिपिन रावत

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत की फाइल फोटो (File Photo)

CDS General Bipin Rawat: बिपिन रावत ने कहा, 2019 में भारत रक्षा निर्यातकों की लिस्ट में 19वें स्थान पर था. उन्होंने कहा कि हम इस बात के गवाह हैं कि भारत ने रक्षा निर्यात में 700 प्रतिशत की ग्रोथ की है.

नई दिल्ली. सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat) ने बुधवार को कहा, हम सिर्फ अपने सुरक्षाबलों (Security forces) की जरूरतों को पूरा करने के लिए हथियारों और रक्षा उपकरणों (Weapons and defense equipment) का उत्पादन नहीं कर रहे, बल्कि धीरे-धीरे एक रक्षा निर्यात (Defense exports) उद्योग बन रहे हैं. हमने 2016-17 में 1521 करोड़ रुपये का रक्षा निर्यात किया था. वहीं, 2018 में यह रक्षा निर्यात बढ़कर 10, 745 करोड़ रुपये हो गया. बिपिन रावत ने कहा, 2019 में भारत रक्षा निर्यातकों की लिस्ट में 19वें स्थान पर था. उन्होंने कहा कि हम इस बात के गवाह हैं कि भारत ने रक्षा निर्यात में 700 प्रतिशत की ग्रोथ की है.

जनरल रावत ने कहा, ‘हम न केवल संख्या के आधार पर, बल्कि सघन युद्ध अनुभव, पेशेवर रवैये और गैर-राजनीतिक प्रकृति के कारण दुनिया के अग्रणी सशस्त्र बलों में से एक हैं. पिछले कुछ साल में भारत के रक्षा क्षेत्र में ऊर्जा भरने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. साथ ही कुछ योजनाएं शुरू की गई हैं. हम अपने स्वेदशीकरण के मूल्यों के प्रति गहराई से प्रतिबद्ध हैं.’

हथियारों के मामले में आत्मनिर्भर बनेगा भारतः पीएम मोदी
बिपिन रावत का ये बतायन प्रधानमंत्री मोदी के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत हथियारों के मामले में आत्मनिर्भर बनेगा. पिछले दिनों एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, रक्षा उत्पादन में आत्मनिर्भरता को लेकर हमारा कमिटमेंट सिर्फ बातचीत या कागजों तक ही सीमित नहीं है. इसके कार्यान्वयन के लिए एक के बाद एक कदम उठाए गए हैं.


hindi.news18.com

Leave a Comment