Categories: देश

भारतीय प्रोफेसर का दावा- कोरोना वायरस को खत्म कर सकता है पौधों में मौजूद रासायनिक तत्व

सांकेतिक तस्वीर

Coronavirus: कोरोना पर किया गया ये रिसर्च तीन सितंबर को अंतरराष्ट्रीय जनरल फाइटोमेडिसिन में भी प्रकाशित हो चुका है. दावा किया गया है कि पौधों में मौजूद रासायनिक तत्व इस वायरस को मात देने में सक्षम है.

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) को दुनिया में दस्तक दिए अब करीब 9 महीने हो गए हैं. लेकिन इस खतरनाक वायरस से लड़ने के लिए न तो अब तक कोई कारगर दवाई बनाई गई है और न ही कोई वैक्सीन तैयार की जा सकी है. हालांकि दुनिया भर में इस वायरस को लेकर लगातार नए रिसर्च हो रहे हैं. भारत के दो यूनिवर्सिटी ने अब कोरोना को लेकर नए रिसर्च किए हैं जिसमें दावा किया गया है कि पौधों में मौजूद रासायनिक तत्व इस वायरस को मात देने में सक्षम है. ये रिसर्च गुरु गोविंद सिंह यूनिवर्सिटी (GGSIPU) और पंजाब यूनिवर्सिटी (PU) के दो प्रोफेसर ने किया है.

क्या कुछ मिला रिसर्च में
PU के सेंटर ऑफ बायोलॉजी सिस्टम्स के चेयरपर्सन डॉक्टर अशोक कुमार और GGSIPU के डॉक्टर सुरेश कुमार के मुताबिक पौधे में करीब 50 ऐसे पायथोकेमिकल मौजूद है जो वायरस को खत्म कर सकते हैं.पायथोकेमिकल पौधे का वो तत्व है जो पौधे के जड़, तना, पत्तियां, फल, सब्जियों और पौधे के दूसरे हिस्से में मौजूद रहते हैं. इन रसायनिक तत्वों को केमिकल प्रोसेस से निकाला जा सकता है. बाद में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. स्टडी में पता चला है कि ये पायथोकेमिकल हमें कई वायरस और बैक्टेरिया के अटैक से बचा सकते हैं.

ये भी पढ़ें:- चीन से तनातनी के बीच बढ़ी भारतीय सेना की ताकत, सारंग गन की टेस्टिंग रही सफलअब  वन्यजीवों पर किया जाएगा परीक्षण
डॉक्टर सुरेश के मुताबिक रिसर्च में देखा गया कि रसायनिक तत्वों ने कोरोना के प्रोटीन पर हमला कर उसे रोक दिया. अगर कोरोना का प्रोटीन किसी दूसरे तत्व से प्रोसेस करने में निष्क्रिय है तो संक्रमण फैलने का खतरा अपने आप में कम हो जाता है. हालांकि ये परीक्षण फिलहाल कंप्यूटर पर किया गया है. आगे इसका परीक्षण वन्यजीवों और इंसानों पर भी किया जाएगा. इसके बाद ही ये कितना कारगर है इसका सही-सही पताया लगाया जा सकेगा. बता दें कि कोरोना पर किया गया ये रिसर्च तीन सितंबर को अंतरराष्ट्रीय जनरल फाइटोमेडिसिन में भी प्रकाशित हो चुका है.


hindi.news18.com

Leave a Comment