Categories: देश

चिट्ठी लिखने वाले नेताओं का सोनिया गांधी से सवाल- राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनेंगे या नहीं

कांग्रेस नेताओं ने एक बार फिर पार्टी अध्यक्ष को लेकर सोनिया गांधी से जवाब मांगा है. (फ़ाइल फोटो)

मानसून सत्र (monsoon session) को लेकर होने वाली कांग्रेस (Congress) की ​बैठक से पहले ही अब संगठन में आमूलचूल परिवर्तन को लेकर चिट्ठी लिखने वाले पार्टी के नेता सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से अध्यक्ष पद को लेकर स्थिति स्पष्ट करने की बात करने लगे हैं.

नई दिल्‍ली. पार्टी नेतृत्व को लेकर कांग्रेस (Congress) में एक बार फिर आपसी मन मुटावा देखने को मिल सकता है. दरअसल 14 सितंबर से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र (monsoon session) से पहले कांग्रेस के सभी नेता एक बार फिर वर्चुअल तरीके से इकट्ठा होने वाले हैं. CWC की बैठक के बाद जिस तरह से पार्टी के अंदर विवाद हुआ था उसके बाद ये पहला मौका होगा जब कांग्रेस के सभी नेता आमने सामने होंगे. इस बैठक से पहले ही अब संगठन में आमूलचूल परिवर्तन को लेकर चिट्ठी लिखने वाले पार्टी के नेता सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से अध्यक्ष पद को लेकर स्थिति स्पष्ट करने की बात करने लगे हैं. बता दें कि इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी भी शामिल होंगे.

बता दें कि सीडब्ल्यूसी की मी​टिंग से पहले कांग्रेस में जिस तरह से चिट्ठी बम फटा था, उसके बाद से कांग्रेस नेता दो धड़े में बंट गए थे. हालांकि पार्टी ने बाद में कहा कि सभी नेताओं से बात कर विवाद पर पूर्ण विराम लगा दिया गया है. बता दें कि सीडब्‍ल्‍यूसी की मीटिंग में मनमोहन सिंह, एके एंटनी और राहुल गांधी समेत एक धड़े ने चिट्ठी लिखने वाले 23 नेताओं की तीखी आलोचना की थी. हालांकि सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले 23 नेताओं ने अभी तक अपना रुख नहीं बदला है.

इसे भी पढ़ें :- सोनिया गांधी बनाम राहुल गांधी लीडरशिप : क्या हैं सवाल और आगे के रास्ते?

सोनिया गांधी की जीवनी लिखने वाले रशीद किदवई के मुताबिक सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले नेता चाहते हैं कि राहुल गांधी स्पष्ट करें कि वह खुद को अध्यक्ष पद का उम्मीदवार घोषित करेंगे या नहीं. पार्टी की अंदरूनी कलह को शांत करने की जिम्मेदारी कई वरिष्ठ नेताओं को दी गई है लेकिन इस मामले में कोई खास प्रगति नहीं हुई है. बता दें कि सोनिया गांधी ने नेताओं की चिट्ठी पर 6 महीने में कोई अहम निर्णय लेने की बात कही है.इसे भी पढ़ें :- कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देंगी सोनिया गांधी, पार्टी से कहा- चुन लें नया प्रमुख

संसद सत्र में सोनिया गांधी नाराज नेताओं से कर सकती हैं मुलाकात
हालांकि चिट्ठी लिखने वाले नेताओं की शिकायत है कि 24 अगस्त को सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद से उनसे किसी भी तरह का कोई संपर्क नहीं किया गया. खबर है कि 14 सितंबर से संसद में शुरू हो रहे संसद सत्र के दौरान सोनिया गांधी इन नेताओं से मुलाकात करेंगी. हालांकि इस दौरान पार्टी के सभी नेताओं से इस मुद्दे पर कोई भी बयानबाजी करने से मना कर दिया गया है.


hindi.news18.com

Leave a Comment