Categories: देश

ऑक्सफोर्ड कोविड-19 टीके का परीक्षण निलंबित किए जाने पर सीरम इंस्टीट्यूट को DGCI का नोटिस

Coronavirus Cases in India: देश में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

Coronavirus in India: देश में बुधवार को कोविड-19 के 89,706 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले 43 लाख के पार चले गए. वहीं 33,98,844 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद मरीजों के ठीक होने की दर 77.77 प्रतिशत हो गई है.

नई दिल्ली. केन्द्रीय औषधि नियामक ने फार्मा कंपनी एस्ट्रजेनेका (Astrezenca) द्वारा ऑक्सफोर्ड कोविड-19 टीके (Oxford Covid-19 Vaccine) का अन्य देशों में क्लिनिकल परीक्षण बंद किए जाने के संबंध में सूचना नहीं देने और टीके के ‘‘गंभीर प्रतिकूल प्रभावों की खबरों’’ के संबंध में सूचना नहीं देने को लेकर सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Seerum Institiute of India) को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. इस संबंध में खबरें आने के बाद कि ब्रिटेन (Britain) में टीका परीक्षण में शामिल एक व्यक्ति पर इसक प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के बाद कोविड-19 टीके (Covid-19 Vaccine) का परीक्षण रोक दिया गया है, यह कारण बताओ नोटिस जारी किया गया.

इस टीके को ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा विकसित किया जा रहा है.? भारत के औषधि महानियंत्रक डॉक्टर वी. जी. सोमानी ने कारण बताओ नोटिस में सीरम इंस्टीट्यूट से पूछा है कि मरीजों की सुरक्षा की गारंटी होने तक, देश में टीके के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण के लिए दी गयी अनुमति को निलंबित क्यों ना किया जाए.

सीरम इंस्टीट्यूट से पूछे गए ये सवाल
पीटीआई को प्राप्त कारण बताओ नोटिस की प्रति के अनुसार, ‘‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने केन्द्रीय लाइसेंसी प्राधिकार को अभी तक एस्ट्राजेनेका द्वारा अन्य देशों में टीके का परीक्षण निलंबित किए जाने की सूचना नहीं दी है और मरीजों पर इसके प्रतिकूल प्रभाव के संबंध में कोई रिपोर्ट भी नहीं सौंपी है.’’नोटिस में नयी औषधि और क्लिनिकल ट्रायल नियम, 2019 के प्रावधान 30 के तहत सीरम इंस्टीट्यूट से पूछा गया है कि दो अगस्त को दी गयी परीक्षण की मंजूरी को मरीजों की सुरक्षा तय होने तक स्थगित क्यों ना कर दिया जाए.

गौरतलब है कि देश में बुधवार को कोविड-19 के 89,706 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले 43 लाख के पार चले गए. वहीं 33,98,844 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद मरीजों के ठीक होने की दर 77.77 प्रतिशत हो गई है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 43,70,128 हो गए हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 1,115 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 73,890 हो गई है.


hindi.news18.com

Leave a Comment