Categories: देश

इस साल 14,000 लोगों को नौकरी देगा SBI, जानिए क्या है देश के सबसे बड़े बैंक का प्लान

नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने सोमवार को कहा कि वो इस साल 14,000 नई भर्तियां करेगा. इसके पहले देश के सबसे बड़े बैंक द्वारा 30 हजार से ज्यादा कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिग सेवानिवृत्ति योजना यानी वीआरएस लाने का ऐलान किया था. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि एसबीआई कॉस्ट कटिंग के लिए इन कर्मचारियों के लिए वीआरएस लेकर आ रही है. इस पर एसबीआई ने कहा है कि वो अपने ऑपरेशंस का विस्तार कर रही है और इसके लिए वर्कफोर्स की जरूरत होगी. यही कारण है कि बैंक 14 हजार नई भर्तियां करने वाला है.

एसबीआई ने सोमवार को बयान जारी कर कहा, ‘हमारी मौजूदा वर्कफोर्स करीब 2.50 लाख कर्मचारियों की है. हम अपने कर्मचारियों के लिए हमेशा आगे आये हैं. हम अपने कर्मचारियों के प्रति प्रतिबद्ध हैं. हम देश के युवाओं की स्किलिंग प्रक्रिया में भागीदार बनना चाहते हैं. हम देश के इकलौ​ता बैंक है जो भारत सरकार की नेशनल आपरेंटिसशिप स्कीम के युवाओं को काम दे रहे हैं.

यह भी पढ़ें: ICICI Bank-Videocon मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED ने दीपक कोचर को गिरफ्तार किया SBI में कुल 2.49 लाख कर्मचारी कार्यरत
कुल 11,565 अधिकारी और 18,625 स्टाफ SBI VRS स्कीम के लिए आवेदन कर सकेंगे. SBI का अनुमान है कि अगर कुल योग्य कर्मचारियों में से 30 फीसदी भी VRS के लिए आवेदन करेंगे तो उसे करीब 2,170.85 करोड़ रुपये बचाने में मदद मिलेग. मार्च 2020 तक स्टेट बैंक में कुल 2.49 लाख कर्मचारी कार्यरत हैं. एक साल पहले यह संख्या 2.57 लाख कर्मचारियों की थी.

इसके पहले कब VRS स्कीम लेकर आया था SBI?
साल 2017 में 5 एसोसिएट बैंक के विलय से पहले ​इन बैंकों ने अपने कर्मचारियों के लिए वीआरएस का ऐलान किया था. साल 2001 में एसबीआई ने वीआरएस का ऐलान किया था. पीटीआई ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के जानकारी दी है कि वीआरएस के लिए ड्रॉफ्ट तैयार कर लिया गया है. अभी इसे बोर्ड से मंजूरी मिला बाकी है.

क्या होगी योग्यता?
इस स्कीम के तहत ऐलान किए जाने वाले कट ऑफ डेट तक 25 साल की सर्विस पूरा करने वाले या जिनकी उम्र 55 साल से ज्यादा है, वो इस स्कीम के तहत रिटायरमेंट ले सकते हैं. SBI इस स्कीम को 1 दिसंबर 2020 को खोलेगी और फरवरी अंत तक के लिए यह खुला रहेगा. इसी अवधि में VRS के आवेदन मंजूर किये जाएंगे.

यह भी पढ़ें: दूसरे राहत पैकेज पर काम कर रही मोदी सरकार, मध्यम वर्ग और छोटे कारोबार पर होगा फोकस

VRS लेने वाले कर्मचारियों को क्या सुविधाएं मिलेंगी?
बैंक ने कहा, ‘जो स्टाफ मेंबर VRS के लिए आवेदन करेगा, उन्हें बचे हुए सर्विस की अवधि तक सैलरी की 50 फीसदी दी जाएगी. यह पेंशन की तारीख तक के लिये होगा. साथ ही यह अंतिम सैलरी के 18 महीने तक के लिए ही होगा.’ इसके अलावा VRS लेने वाले कर्मचारियों को ग्रैच्युटी, पेंशन, प्रोविडेंट फंड और मेडिकल की सुविधाएं दी जाएंगी. एसबीआई के वीआरएस स्कीम के तहत रिटायर होने वाले स्टाफ 2 साल की कूलिंग पीरियड के बाद दोबारा बैंक में नौकरी के लिए आवेदन करने योग्य होगा.


hindi.news18.com

Leave a Comment